Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Oct 2016 · 1 min read

शक्ति

तू है शत्रुओं का नाश करे दुर्गा माँ
तू दुख सबके हरदम हर ले दुर्गा माँ
शक्ति मुझे दे जब आऊँ द्वारे तेरी
नवरात्रे में हर घर सज ले दुर्गा माँ

~~~डॉ मधु त्रिवेदी ~~

Language: Hindi
Tag: कविता
72 Likes · 234 Views
You may also like:
✍️एक नन्हे बच्चे इंदर मेघवाल की मौत पर...!
'अशांत' शेखर
औरत
Rekha Drolia
वक्र यहां किरदार
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
'कृषि' (हरिहरण घनाक्षरी)
Godambari Negi
*!* रचो नया इतिहास *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
मुझको सन्तुष्टि इसी में है
gurudeenverma198
चालीसा
Anurag pandey
बेवफ़ा कह रहे हैं।
Taj Mohammad
अर्धनारीश्वर की अवधारणा...?
मनोज कर्ण
साहित्यकारों से
Rakesh Pathak Kathara
*हमें कर्तव्य के पथ पर बढ़ाती कृष्ण की गीता (हिंदी...
Ravi Prakash
भाभी जी आ जाएगा
Ashwani Kumar Jaiswal
तेरा बस
Dr fauzia Naseem shad
मातृशक्ति को नमन
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
क्या ज़रूरत थी
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
दर्पण!
सेजल गोस्वामी
देवदासी प्रथा का अंत कब होगा?
Shekhar Chandra Mitra
जीवन के आधार पिता
Kavita Chouhan
-पहले आत्मसम्मान फिर सबका सम्मान
Seema gupta ( bloger) Gupta
ईश्वर ने दिया जिंन्दगी
Anamika Singh
न और ना प्रयोग और अंतर
Subhash Singhai
दुर्घटना का दंश
DESH RAJ
समय का इम्तिहान
Saraswati Bajpai
वीर
लक्ष्मी सिंह
मन का मोह
AMRESH KUMAR VERMA
🦋🦋तुम रहनुमा बनो मेरे इश्क़ के🦋🦋
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Subject- मां स्वरचित और मौलिक जन्मदायी मां
Dr Meenu Poonia
" हमरा सबकें ह्रदय सं जुड्बाक प्रयास हेबाक चाहि "
DrLakshman Jha Parimal
अंधविश्वास - कहानी
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
माँ
shabina. Naaz
Loading...