Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

वो आगे और जाना चाहता है

वो आगे और, जाना चाहता है
मुकाम ऊँचा, बनाना चाहता है।1।

लोगों के काम आए, ताज़िन्दगी
किरदार, यूँ निभाना चाहता है।2।

प्रेम बढे, शांति, ख़ुशहाली भी
कुछ, ऐसा कर जाना चाहता है।3।

सभी हो दोस्त, दुश्मनी रहे क्यूँ
सबके ही, काम आना चाहता है।4।

ख़ार हो तो, फ़कत रखवाली में
दुनिया, ऐसी बनाना चाहता है।5।

जानता है, मानती नहीं ये दुनिया
फिर भी वो, आजमाना चाहता है।6

वो कोई और नहीं, दिल है मेरा
बाहों में इतना, सामना चाहता है।7।

-आनंद बिहारी, चंडीगढ़
Whatsapp: 9878115857

10 Comments · 590 Views
You may also like:
लॉकडाउन गीतिका
Ravi Prakash
पिता का दर्द
Nitu Sah
जग का राजा सूर्य
Buddha Prakash
काश अपना भी कोई चाहने वाला होता।
Taj Mohammad
“ माँ गंगा ”
DESH RAJ
# स्त्रियां ...
Chinta netam " मन "
मकड़जाल
Vikas Sharma'Shivaaya'
पृथ्वी दिवस
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
अरविंद सवैया
संजीव शुक्ल 'सचिन'
✍️बुनियाद✍️
"अशांत" शेखर
कविता में मुहावरे
Ram Krishan Rastogi
✍️✍️व्यवस्था✍️✍️
"अशांत" शेखर
✍️कधी कधी✍️
"अशांत" शेखर
ये जज़्बात कहां से लाते हो।
Taj Mohammad
चला कर तीर नज़रों से
Ram Krishan Rastogi
*आचार्य बृहस्पति और उनका काव्य*
Ravi Prakash
जाग्रत हिंदुस्तान चाहिए
Pt. Brajesh Kumar Nayak
खींच तान
Saraswati Bajpai
मजदूर.....
Chandra Prakash Patel
बूँद-बूँद को तरसा गाँव
ईश्वर दयाल गोस्वामी
श्री राम
नवीन जोशी 'नवल'
'मेरी यादों में अब तक वे लम्हे बसे'
Rashmi Sanjay
मेरे बुद्ध महान !
मनोज कर्ण
हिय बसाले सिया राम
शेख़ जाफ़र खान
क्या सोचता हूँ मैं भी
gurudeenverma198
प्रेयसी
Dr. Sunita Singh
मनुज से कुत्ते कुछ अच्छे।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
दिये मुहब्बत के...
अरशद रसूल /Arshad Rasool
और कितना धैर्य धरू
Anamika Singh
जीवन मेला
DESH RAJ
Loading...