Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 5, 2021 · 1 min read

विश्व पर्यावरण दिवस

अगर तुम्हे अपनी आने वाली पीढ़ी का भविष्य बनाना है।
तो तुम्हे पर्यावरण को बचाना है।।

अगर तुम्हे कुदरती अन्न जल खाना है।
तो तुम्हे गावों को शहर होने से बचाना है।।

अगर तुम्हे दूध मेवे मक्खन को खाना है।
तो तुम्हे गौ हत्या को बचाना है

अगर तुम्हे शुद्ध हवा में जीवन जीना है।
तो तुम्हे वृक्षों को लगाना है।।

अगर तुम्हे शुद्ध जल का सेवन करना है।
तो तुम्हे नदियों को नालों से बचाना है।।

अगर तुम्हे प्रोटीन युक्त भोजन करना है।
तो तुम्हे खेतों की मिट्टी को उपजाऊ बनाना है।।

अगर तुम्हे पर्यावरण का कर्ज चुकाना है।
तो तुम्हे अपना प्रकृति धर्म निभाना है।।

अगर तुम्हे अपनी आने वाली पीढ़ी का भविष्य बनाना है।
तो तुम्हे पर्यावरण को बचाना है।।

153 Views
You may also like:
*"यूँ ही कुछ भी नही बदलता"*
Shashi kala vyas
क्योंकि, हिंदुस्तान हैं हम !
Palak Shreya
हम भाई भाई थे
Anamika Singh
खुश रहना
dks.lhp
पुस्तक -कैवल्य की परिचयात्मक समीक्षा
Rashmi Sanjay
मेरे जज्बात
Anamika Singh
पता नहीं तुम कौनसे जमाने की बात करते हो
Manoj Tanan
ज़माना कहता है हर बात ......
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
मुझको रूलाया है।
Taj Mohammad
✍️आव्हान✍️
'अशांत' शेखर
*झाँसी की क्षत्राणी । (झाँसी की वीरांगना/वीरनारी)
Pt. Brajesh Kumar Nayak
दिनांक 10 जून 2019 से 19 जून 2019 तक अग्रवाल...
Ravi Prakash
मैं पिता हूं।
Taj Mohammad
हर घर तिरंगा
अश्विनी कुमार
कि राज दिल का उसको, कभी बता नहीं सके
gurudeenverma198
जीवन चक्र
AMRESH KUMAR VERMA
दीपावली
Dr Meenu Poonia
बेटी को जन्मदिन की बधाई
लक्ष्मी सिंह
योगी छंद विधान और विधाएँ
Subhash Singhai
Anand mantra
Rj Anand Prajapati
ये जिंदगी एक उलझी पहेली
VINOD KUMAR CHAUHAN
✍️जेरो-ओ-जबर हो गये✍️
'अशांत' शेखर
बंकिम चन्द्र प्रणाम
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
✍️✍️हादसा✍️✍️
'अशांत' शेखर
ईश्वरीय फरिश्ता पिता
AMRESH KUMAR VERMA
अग्रवाल धर्मशाला में संगीतमय श्री रामकथा
Ravi Prakash
बेटियाँ
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
अंकपत्र सा जीवन
सूर्यकांत द्विवेदी
मेरी हर शय बात करती है
Sandeep Albela
मुझे धोखेबाज न बनाना।
Anamika Singh
Loading...