Oct 12, 2016 · 1 min read

वक्त

वक्त जो गुज़र गया
उसको तलाशते रहे
किसी की याद में
वो आज भी आंसू बहाते रहे
दो पल के लिए भी
कोई रुक न सका
वो उम्र भर उनको
दिल में सजाते रहे
छोड़कर दामन ख़ुशी का
चल रहे है वो
आज भी उनके इंतज़ार में
जी रहे है वो

– सोनिका मिश्रा

399 Views
You may also like:
💐💐प्रेम की राह पर-19💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
श्री राम ने
Vishnu Prasad 'panchotiya'
क्या कोई मुझे भी बताएगा
Krishan Singh
नवगीत -
Mahendra Narayan
*!* हट्टे - कट्टे चट्टे - बट्टे *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
देवदूत डॉक्टर
Buddha Prakash
🍀🌺परमात्मा सर्वोपरि🌺🍀
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
बाबा ब्याह ना देना,,,
Taj Mohammad
अब सुप्त पड़ी मन की मुरली, यह जीवन मध्य फँसा...
संजीव शुक्ल 'सचिन'
* तुम्हारा ऐहसास *
Dr. Alpa H.
संघर्ष
Rakesh Pathak Kathara
ना कर गुरुर जिंदगी पर इतना भी
VINOD KUMAR CHAUHAN
मेरी राहे तेरी राहों से जुड़ी
Dr. Alpa H.
याद आते हैं।
Taj Mohammad
कहानी को नया मोड़
अरशद रसूल /Arshad Rasool
रोग ने कितना अकेला कर दिया
Dr Archana Gupta
मेरे पापा जैसे कोई....... है न ख़ुदा
Nitu Sah
**अनमोल मोती**
Dr. Alpa H.
चिड़ियाँ
Anamika Singh
सोए है जो कब्रों में।
Taj Mohammad
सहारा मिल गया होता
अरशद रसूल /Arshad Rasool
"शादी की वर्षगांठ"
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
अहसास
Vikas Sharma'Shivaaya'
$गीत
आर.एस. 'प्रीतम'
शायद मैं गलत हूँ...
मनोज कर्ण
खुशियों की रंगोली
Saraswati Bajpai
घर
पंकज कुमार "कर्ण"
*!* मोहब्बत पेड़ों से *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
रावण - विभीषण संवाद (मेरी कल्पना)
Anamika Singh
💐प्रेम की राह पर-26💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Loading...