Oct 2, 2016 · 1 min read

लौहपरी चाहिए

मिट्टी के शहज़ादों को लौह परी चाहिए
देखने सुनने में मदभरी चाहिए,
घर बाहर के कामों में कड़ी चाहिए,
मिट्टी के शहज़ादों को लौह परी चाहिए

एक ही पल में वो बचपने को छोड़ के,
हर जरूरत का खयाल हर एक की रखे,
वक्त पड़े तो माँ ,बहन,देवी भी हो सके,
उम्र में हो छोटी पर ‘बड़ी’ चाहिए,
मिट्टी के शहज़ादों को लौह परी चाहिए

घर के कोने-कोने को संभाल कर रखे,
बाहर के कामों में भी वो कमाल कर सके,
मुसीबतों में हो सके तो ढाल बन सके,
हर एक चुनौतियों में वो खरी चाहिए,
मिट्टी के शहज़ादों को लौह परी चाहिए

फाइव स्टार जैसा खाना बना सके
घर का इंटीरियर भी चुटकियों में सजा सके
उसपे ये भी है कि वो पैसे बचा सके,
चाँदनी में धूप सुनहरी चाहिए,
मिट्टी के शहज़ादों को लौह परी चाहिए

लुक्स में हो स्मार्ट ऐजुकेशन भी हाई हो,
नौकरी करे और मोटी कमाई हो,
घर में आके काम में जुटी सी बाई हो,
उस पे मुस्कुराती हर घड़ी चाहिए,
मिट्टी के शहज़ादों को लौह परी चाहिए.?

163 Views
You may also like:
अपनी क़िस्मत को फिर बदल कर देखते हैं
Muhammad Asif Ali
पर्यावरण बचा लो,कर लो बृक्षों की निगरानी अब
Pt. Brajesh Kumar Nayak
पिता
Kanchan Khanna
विश्व पृथ्वी दिवस
Dr Archana Gupta
कोमल एहसास प्यार का....
Dr. Alpa H.
प्रारब्ध प्रबल है
सिद्धार्थ गोरखपुरी
विसाले यार ना मिलता है।
Taj Mohammad
सीख
Pakhi Jain
बनकर कोयल काग
Jatashankar Prajapati
पिता का साथ जीत है।
Taj Mohammad
सुमंगल कामना
Dr.sima
पितृ स्तुति
दुष्यन्त 'बाबा'
भगवान श्री परशुराम जयंती
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
जी हाँ, मैं
gurudeenverma198
सच्चा प्यार
Anamika Singh
स्वप्न-साकार
Prabhudayal Raniwal
पनघट और मरघट में अन्तर
Ram Krishan Rastogi
मयंक के जन्मदिन पर बधाई
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
ममत्व की माँ
Raju Gajbhiye
Accept the mistake
Buddha Prakash
जिंदगी जब भी भ्रम का जाल बिछाती है।
Manisha Manjari
ईश प्रार्थना
Saraswati Bajpai
समय के पंखों में कितनी विचित्रता समायी है।
Manisha Manjari
पापा वो बचपन के
Khushboo Khatoon
फिजूल।
Taj Mohammad
युद्ध सिर्फ प्रश्न खड़ा करता है [भाग३]
Anamika Singh
Born again with love...
Abhineet Mittal
मिटटी
Vikas Sharma'Shivaaya'
**किताब**
Dr. Alpa H.
मौलिक विचार
डॉ.एल. सी. जैदिया 'जैदि'
Loading...