Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Jul 2016 · 1 min read

लिख कुछ ऐसे…….

लिख कुछ ऐसे आसमां पर
कि जमीं भी तेरे पैरों में हो
*********************
कायल हों लिखने के सभी
और चर्चे भी तेरे गेरों में हो
*********************
कपिल कुमार
20/07/2016

Language: Hindi
Tag: शेर
2 Likes · 155 Views
You may also like:
दास्तां-ए-दर्द
Seema 'Tu hai na'
शेर
Shriyansh Gupta
हम जनमदिन को कुछ यूँ मनाने लगे
अरविन्द राजपूत 'कल्प'
ॐ नीलकंठ शिव है वो
Swami Ganganiya
अबके सावन लौट आओ
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
Writing Challenge- कल्पना (Imagination)
Sahityapedia
दर्द
Anamika Singh
*प्रभु नाम से जी को चुराते रहे (घनाक्षरी)*
Ravi Prakash
अष्टांग मार्ग गीत
Buddha Prakash
|| संत नरसी (नरसिंह) मेहता || 🌷
Pravesh Shinde
गँवईयत अच्छी लगी
सिद्धार्थ गोरखपुरी
बन कर शबनम।
Taj Mohammad
✍️इंतज़ार✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
तुम्हारा ध्यान कहाँ है.....
पंकज कुमार शर्मा 'प्रखर'
अनवरत सी चलती जिंदगी और भागते हमारे कदम।
Manisha Manjari
दिल का यह
Dr fauzia Naseem shad
🙏स्कंदमाता🙏
पंकज कुमार कर्ण
देव प्रबोधिनी एकादशी
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
* महकाते रहे *
surenderpal vaidya
३५ टुकड़े अरमानों के ..
ओनिका सेतिया 'अनु '
✴️✳️⚜️वो पगड़ी सजाए हुए हैं⚜️✳️✴️
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
*ओ भोलेनाथ जी* "अरदास"
Shashi kala vyas
आओ अब यशोदा के नन्द
शेख़ जाफ़र खान
इंतजार करो में आऊंगा (इंतजार करो गहलोत जरूर आएगा,)
bharat gehlot
नहीं छिपती
shabina. Naaz
गुरु की महिमा पर कुछ दोहे
Ram Krishan Rastogi
नायक
Shekhar Chandra Mitra
✍️सारे अपने है✍️
'अशांत' शेखर
कोशिश
Shyam Sundar Subramanian
सौ बात की एक
Dr.sima
Loading...