Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
20 Jul 2022 · 1 min read

लाख सितारे ……

लाख सितारे तेरी नजरों पे वार दूँगा ,
धड़कने पिरोकर साँसो का हार दूँगा |
तेरी मुस्कुराहट की उम्र तमाम कर दे मेरी ,
क़तरा-क़तरा, ज़र्रा-ज़र्रा की तुझे प्यार दूँगा ||
:- लक्ष्मण ‘बिजनौरी’

Language: Hindi
Tag: शेर
4 Likes · 1 Comment · 93 Views
You may also like:
*कभी झुकना भी पड़ता है (मुक्तक)*
*कभी झुकना भी पड़ता है (मुक्तक)*
Ravi Prakash
शिक्षा (Education) (#नेपाली_भाषा)
शिक्षा (Education) (#नेपाली_भाषा)
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
#गणतंत्र दिवस#
#गणतंत्र दिवस#
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
'प्रेम' ( देव घनाक्षरी)
'प्रेम' ( देव घनाक्षरी)
Godambari Negi
How long or is this
How long or is this "Forever?"
Manisha Manjari
कभी कभी पागल होना भी
कभी कभी पागल होना भी
Vandana maurya
शोर जब-जब उठा इस हृदय में प्रिये !
शोर जब-जब उठा इस हृदय में प्रिये !
Arvind trivedi
समस्या है यह आएगी_
समस्या है यह आएगी_
Rajesh vyas
💐प्रेम कौतुक- 292💐
💐प्रेम कौतुक- 292💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
ससुरा में जान
ससुरा में जान
Shekhar Chandra Mitra
शायरी
शायरी
Shyam Singh Lodhi (LR)
बन गई पाठशाला
बन गई पाठशाला
rekha mohan
बन नेक बन्दे रब के
बन नेक बन्दे रब के
Satish Srijan
✍️रंग बदलती जिंदगी
✍️रंग बदलती जिंदगी
'अशांत' शेखर
👨‍🎓मेरा खाली मटका माइंड
👨‍🎓मेरा खाली मटका माइंड
Ankit Halke jha
एक झूठा और ब्रह्म सत्य
एक झूठा और ब्रह्म सत्य
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
💥आदमी भी जड़ की तरह 💥
💥आदमी भी जड़ की तरह 💥
Khedu Bharti "Satyesh"
ये बारिश के मोती
ये बारिश के मोती
Surinder blackpen
عجیب دور حقیقت کو خواب لکھنے لگے۔
عجیب دور حقیقت کو خواب لکھنے لگے۔
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
नारी तुम
नारी तुम
Anju ( Ojhal )
गम
गम
जय लगन कुमार हैप्पी
माँ
माँ
विशाल शुक्ल
■ आज की बात...
■ आज की बात...
*Author प्रणय प्रभात*
नारी
नारी
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
नियति
नियति
Shyam Sundar Subramanian
हो तेरी ज़िद
हो तेरी ज़िद
Dr fauzia Naseem shad
रिश्ता तोड़ा है।
रिश्ता तोड़ा है।
Taj Mohammad
खबर हादसे की
खबर हादसे की
AJAY AMITABH SUMAN
When compactibility ends, fight beginns
When compactibility ends, fight beginns
Sakshi Tripathi
आपकी यादों में
आपकी यादों में
Er.Navaneet R Shandily
Loading...