Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Apr 17, 2022 · 1 min read

लड़कियों का घर

ससुराल मैं अक्सर लड़कियों को सुन ना पड़ता हैं की ये तुम्हारा घर नही हैं जा चली जा अपनी माँ के घर….और लड़किय़ा भी दुखी हो जाती हैं की ना हमारा मायका घर हैं ना ही ससुराल l
मुझे उन लड़कियों से बस इतना कहना हैं की हक के साथ कहो अपने पति से की ज़ितना ये तुम्हारा घर हैं उतना ही मेरा हैं अर्धागिनी हूँ मैं तुम्हारी…बच्चे पैदा किये हैं तुम्हारे….घर के सारे काम करती हूँ पूरे हक़ के साथ ये घर मेरा हैं l

1 Like · 79 Views
You may also like:
मिसाल (कविता)
Kanchan Khanna
क्या क्या पढ़ा है आपने ?
"अशांत" शेखर
मज़ाक बन के रह गए हैं।
Taj Mohammad
-:फूल:-
VINOD KUMAR CHAUHAN
अखंड भारत की गौरव गाथा।
Taj Mohammad
बुद्ध भगवान की शिक्षाएं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
महापंडित ठाकुर टीकाराम
श्रीहर्ष आचार्य
Your laugh,Your cry.
Taj Mohammad
क़ैद में 15 वर्षों तक पृथ्वीराज और चंदबरदाई जीवित थे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
सच एक दिन
gurudeenverma198
यह सूखे होंठ समंदर की मेहरबानी है
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
मानव तू हाड़ मांस का।
Taj Mohammad
तेरे हाथों में जिन्दगानियां
DESH RAJ
#कविता//ऊँ नमः शिवाय!
आर.एस. 'प्रीतम'
तरबूज का हाल
श्री रमण
किसको बुरा कहें यहाँ अच्छा किसे कहें
Dr Archana Gupta
आओ अब यशोदा के नन्द
शेख़ जाफ़र खान
फेसबुक की दुनिया
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
सुबह
AMRESH KUMAR VERMA
तुम्हीं तो हो ,तुम्हीं हो
Dr.sima
गर्भस्थ बेटी की पुकार
Dr Meenu Poonia
कश्ती को साहिल चाहिए।
Taj Mohammad
बेचारी ये जनता
शेख़ जाफ़र खान
तेरी याद में
DR ARUN KUMAR SHASTRI
*सोमनाथ मंदिर 【भक्ति-गीत】*
Ravi Prakash
आखिर क्यों... ऐसा होता हैं 
Dr. Alpa H. Amin
दो पल मोहब्बत
श्री रमण
ऐसी सोच क्यों ?
Deepak Kohli
Once Again You Visited My Dream Town
Manisha Manjari
सत्यमंथन
मनोज कर्ण
Loading...