Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#18 Trending Author
Jun 2, 2021 · 1 min read

रोशन जग सारा

जीवन में उन्हें क्या राह दें,
जब अंधेरे में ही जीना है।

सुबह की खिड़की खोल कर,
देर रोशन जग में सोना है।

शीतल पवन की मंद मुस्कान,
जब हृदय को नहीं छूना है।

खग-विहग चह-चहाँकर,
उठने की प्रेरणा देते हैं ।

पुष्प सुगंध को फैलाकर ,
बाहर आने को आतुर करते हैं।

सूरज किरणों से सारे जग को,
रंगों से भर कर मोहित करता।

मेघ उमड़-घुमड़ वर्षा कर,
हरा-भरा कर धरा सजाते।

कल-कल करती नदियांँ सारी,
सागर को राग सुनाती हैं।

जीव-जंतु पलके खोलकर,
निकल चले टहलने भोर।

दुख को त्याग नभ-संसार,
करते वंदन जगत कल्याण।

#..बुद्ध प्रकाश ??

3 Likes · 141 Views
You may also like:
“ जालंधर केंट टू अमृतसर ” ( यात्रा संस्मरण )
DrLakshman Jha Parimal
तौबा तौबा
DR ARUN KUMAR SHASTRI
अरि ने अरि को
bhavishaya6t
जात पात
Harshvardhan "आवारा"
✍️पर्दा-ताक हुवा नहीं✍️
'अशांत' शेखर
"अल्फाज़ कहां से लाते हो"। सिर्फ ओ सिर्फ "अशांत"शेखर जी...
Taj Mohammad
ख्वाब तो यही देखा है
gurudeenverma198
प्यार में तुम्हें ईश्वर बना लूँ, वह मैं नहीं हूँ
Anamika Singh
खेलता ख़ुद आग से है
Shivkumar Bilagrami
हाय बरसात दिल दुखाती है
Dr fauzia Naseem shad
नफरत की राजनीति...
मनोज कर्ण
गँवईयत अच्छी लगी
सिद्धार्थ गोरखपुरी
मन की व्यथा।
Rj Anand Prajapati
पुकार सुन लो
वीर कुमार जैन 'अकेला'
ये नारी है नारी।
Taj Mohammad
मैं सोता रहा......
Avinash Tripathi
मां
Dr. Rajeev Jain
नादानियाँ
Anamika Singh
काश
Harshvardhan "आवारा"
हमनें खुद को अगर नहीं समझा
Dr fauzia Naseem shad
गुरु की महिमा पर कुछ दोहे
Ram Krishan Rastogi
कोशिश
Anamika Singh
मां तेरे आंचल को।
Taj Mohammad
होते हैं कई ऐसे प्रसंग
Dr.Alpa Amin
उम्रें गुज़र गई हैं।
Taj Mohammad
कविता
Ravi Prakash
निभाता उम्रभर तेरा साथ
gurudeenverma198
महाकवि भवप्रीताक सुर सरदार नूनबेटनी बाबू
श्रीहर्ष आचार्य
मित्र
लक्ष्मी सिंह
तमन्नाओं का संसार
DESH RAJ
Loading...