Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#19 Trending Author

रूठे लोग

*** रूठे लोग *****
**212 122 221**
*****************

मानते नहीं रूठे लोग,
चरपरे बड़े मीठे लोग।

काम पर नजर अंदाज,
कामयाब हैं झूठे लोग।

दो लम्हें नहीं आराम,
बेफ़िक्री करे बैठे लोग।

तीर से सदा रहते तान,
वैर हैं रखें रीठे लोग।

बात यार मनसीरत मान,
मार काट से ठूँठे लोग।
******************
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
खेड़ी राओ वाली (लोग)

173 Views
You may also like:
【22】 तपती धरती करे पुकार
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
मैं पुकारती रही
Anamika Singh
पुकार सुन लो
वीर कुमार जैन 'अकेला'
आंचल में मां के जिंदगी महफूज होती है
VINOD KUMAR CHAUHAN
मांडवी
Madhu Sethi
घर घर तिरंगा फहराएंगे
Ram Krishan Rastogi
पल
sangeeta beniwal
काश बचपन लौट आता
Anamika Singh
बारिश हमसे रूढ़ गई
Dr.Alpa Amin
कुछ हंसी पल खुशी के।
Taj Mohammad
✍️ओर भी कुछ है जिंदगी✍️
"अशांत" शेखर
सरसी छंद और विधाएं
Subhash Singhai
I feel h
Swami Ganganiya
✍️मुकद्दर आजमाते है✍️
"अशांत" शेखर
नशामुक्ति (भोजपुरी लोकगीत)
संजीव शुक्ल 'सचिन'
नदी का किनारा
Ashwani Kumar Jaiswal
फिर तुम उड़ न पाओगे
Anamika Singh
होना सभी का हिसाब है।
Taj Mohammad
खा लो पी लो सब यहीं रह जायेगा।
सत्य कुमार प्रेमी
जीवन की दुर्दशा
Dr fauzia Naseem shad
सागर ने लहरों से की है ये शिकायत।
Manisha Manjari
मेरी जिन्दगी से।
Taj Mohammad
पिता और एफडी
सूर्यकांत द्विवेदी
,बरसात और बाढ़'
Godambari Negi
छोटा-सा परिवार
श्री रमण 'श्रीपद्'
जिसके सीने में जिगर होता है।
Taj Mohammad
सावन के काले बादल औ'र बदलियां ग़ज़ल में।
सत्य कुमार प्रेमी
यही है मेरा ख्वाब मेरी मंजिल
gurudeenverma198
ईश्वर की जयघोश
AMRESH KUMAR VERMA
A solution:-happiness
Aditya Prakash
Loading...