Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#13 Trending Author

#रुबाइयाँ

#रुबाइयाँ

तरुवर सम जग माना जाए , हम पंछी कहलाएँगे।
करें नीड़ निर्माण इसी पर , मीठे फल हम खाएँगे।।
छाया साँसें देकर तरुवर , मंगल जीवन में लाएँँ।
बिस्तर तरु हरी-भरी डालें , चैन लिए सो जाएँगे।।

भूल भ्राँति को सजा काँति मुख , मकर संक्रांति है आई।
नया सूर्य कर शुरुआत नयी , कहूँ मुबारक सुन भाई।।
अमन चमन से मन सब महकें , आँगन-आँगन ख़ुशियाँ हों;
नित-नित उत्सव के शंख बजें , बजे हृदय फ़न शहनाई।।

शिक्षा ज्ञानी सज्जन करती , समझ भरे अधिकारों की।
उज्ज्वल करे भविष्य सभी का , छाया दे संस्कारों की।।
सच्चा साथी एक यही है , पग-पग जो साथ निभाये;
बद शुभ की पहचान कराए , ताक़त उच्च विचारों की।।

गुरु-गोविंद सिंह आज दिवस , देता है हृदय बधाई ।
ओज वीरता सेवा सूचक , जीवन गुरु का सुन भाई।।
शक्ति भरें गाथाएँ गुरु की , नयी उमंगे देती हैं;
भाषा पढ़ती तलवारों की , बहादुरी गुरु सिखलाई।।

#आर.एस.’प्रीतम’
सर्वाधिकार सुरक्षित रुबाइयाँ

1 Like · 2 Comments · 150 Views
You may also like:
✍️हम वतनपरस्त जागते रहे..✍️
'अशांत' शेखर
✍️कोरोना✍️
'अशांत' शेखर
सोचा था जिसको मैंने
Dr fauzia Naseem shad
ख़ामोश मुझे मेरा
Dr fauzia Naseem shad
मंज़िल
Ray's Gupta
एक गलती ( लघु कथा)
Ravi Prakash
चंद दोहे....
डॉ.सीमा अग्रवाल
वक्त सबको देता है मौका
Anamika Singh
बेजुबान और कसाई
मनोज कर्ण
जात पात
Harshvardhan "आवारा"
खुद को भी
Dr fauzia Naseem shad
एक छोटी सी बात
Hareram कुमार प्रीतम
चलो जिन्दगी को फिर से।
Taj Mohammad
What you are ashamed of
AJAY AMITABH SUMAN
*** तेरी पनाह.....!!! ***
VEDANTA PATEL
✍️गुनाह की सजा✍️
'अशांत' शेखर
आंखों में जब
Dr fauzia Naseem shad
जुल्म
AMRESH KUMAR VERMA
भरोसा नहीं रहा।
Anamika Singh
महाराष्ट्र की स्थिती
बिमल
"चैन से तो मर जाने दो"
रीतू सिंह
अपने दिल से
Dr fauzia Naseem shad
क्या लिखूं मैं मां के बारे में
Krishan Singh
शून्य की महिमा
मनोज कर्ण
मुस्कुराना सीख लो
Dr.sima
मनुज शरीरों में भी वंदा, पशुवत जीवन जीता है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*योग (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
रुक जा रे पवन रुक जा ।
Buddha Prakash
जब तुमने सहर्ष स्वीकारा है!
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
✍️✍️जरी ही...!✍️✍️
'अशांत' शेखर
Loading...