Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#10 Trending Author
Jun 14, 2022 · 1 min read

राहतें ना थी।

ऐसा ना था कि…
हमारी जिंदगी में…
राहतें ना थी…!!
बस हमसे ही…
वो पहचानी ना गई…!!
गर करते हम कोशिशें…
तो शायद मिल ही जाती…
वो हमको भी…!!

✍️✍️ ताज मोहम्मद ✍️✍️

131 Views
You may also like:
ऐ बादल अब तो बरस जाओ ना
नूरफातिमा खातून नूरी
हाय गर्मी!
Manoj Kumar Sain
*रक्षा भारत की करें (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
ये नारी है नारी।
Taj Mohammad
मेरा दिल गया
Swami Ganganiya
#अपने तो अपने होते हैं
Seema 'Tu haina'
मेरा साया
Anamika Singh
बिछड़ कर किसने
Dr fauzia Naseem shad
पिता की याद
Meenakshi Nagar
चुप ही रहेंगे...?
मनोज कर्ण
*सदा तुम्हारा मुख नंदी शिव की ही ओर रहा है...
Ravi Prakash
इश्क का दरिया
Anamika Singh
वह खूब रोए।
Taj Mohammad
Save the forest.
Buddha Prakash
मोहब्बत।
Taj Mohammad
कभी कभी।
Taj Mohammad
भारत माँ के वीर सपूत
Kanchan Khanna
किसी से ना कोई मलाल है।
Taj Mohammad
आंखों पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
✍️मैं जलजला हूँ✍️
'अशांत' शेखर
इतना तय है
Dr fauzia Naseem shad
भूल कैसे हमें
Dr fauzia Naseem shad
मेरी प्रथम शायरी (2011)-
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
वेश्या का दर्द
Anamika Singh
ग़ज़ल कहूँ तो मैं असद
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
✍️✍️असर✍️✍️
'अशांत' शेखर
✍️जमाना नहीं रहा...✍️
'अशांत' शेखर
मन की बात
Rashmi Sanjay
Colourful Balloons
Buddha Prakash
इश्क में बेचैनियाँ बेताबियाँ बहुत हैं।
Taj Mohammad
Loading...