Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Mar 30, 2022 · 1 min read

रसीला आम

आम फलों का राजा कहलाता,
मस्त पीला और रसीला होता,
जूस बड़ा ही खट्टा मीठा होता,
गर्मी के मौसम में आता,
देख सभी का मन ललचाए,
आम का फल सभी को भाए,
गुठली बड़ी-सी इसके अंदर होती,
खाने में न कोई झंझट होता ,
चूस-चूस कर सब जन खाएं,
तभी तो यह आम कहलाए ।

✍🏼
बुद्ध प्रकाश,
मौदहा हमीरपुर ।

1 Like · 96 Views
You may also like:
Two Different Genders, Two Different Bodies And A Single Soul
Manisha Manjari
संकोच - कहानी
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
💐💐प्रेम की राह पर-14💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
आद्य पत्रकार हैं नारद जी
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
✍️मयखाने से गुज़र गया हूँ✍️
"अशांत" शेखर
# बोरे बासी दिवस /मजदूर दिवस....
Chinta netam " मन "
कर्म
Rakesh Pathak Kathara
जीवन-दाता
Prabhudayal Raniwal
तेरी हर बात सनद है, हद है
Anis Shah
डर काहे का..!
"अशांत" शेखर
** The Highway road **
Buddha Prakash
बेबसी
Varsha Chaurasiya
चिंता और चिता
VINOD KUMAR CHAUHAN
इलाहाबाद आयें हैं , इलाहाबाद आये हैं.....अज़ल
लवकुश यादव "अज़ल"
महाकवि नीरज के बहाने (संस्मरण)
Kanchan Khanna
काश अपना भी कोई चाहने वाला होता।
Taj Mohammad
दिलदार आना बाकी है
Jatashankar Prajapati
फूल और कली के बीच का संवाद (हास्य व्यंग्य)
Anamika Singh
योगा
Utsav Kumar Aarya
💐💐तुमसे दिल लगाना रास आ गया है💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Crumbling Wall
Manisha Manjari
जीत-हार में भेद ना,
Pt. Brajesh Kumar Nayak
खाली मन से लिखी गई कविता क्या होगी
Sadanand Kumar
धोखा
Anamika Singh
हस्यव्यंग (बुरी नज़र)
N.ksahu0007@writer
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग २]
Anamika Singh
आध्यात्मिक गंगा स्नान
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
**यादों की बारिशने रुला दिया **
Dr. Alpa H. Amin
वेवफा प्यार
Anamika Singh
पिता
Ray's Gupta
Loading...