Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Jun 2022 · 1 min read

योगा

जीवन में आरोग्य रहने का
एक अमूल्य नींव है योगा,
कलेवर की रुग्णतों को
भगाने का कर्म करता योगा।

योगा करने वाले मनुष्य
कलेवर से ही नहीं बल्कि,
काया – मानस से परिपूर्ण
रहते सदैव ही तंदुरुस्त हैं।

योगा करने से ही होती
गात में चुस्ती का आगमन है,
चुस्ती स्वभाव के सबब ही तो
मनुष्य जगत में होते ख्यात हैं।

एक दिवा योगा करने से
ना संप्राप्ति हमें लाभ है ,
प्रतिदिन व्यायाम करने से ही
होती संप्राप्ति हमें लाभ है।

✍️✍️✍️उत्सव कुमार आर्या
जवाहर नवोदय विद्यालय बेगूसराय, बिहार

Language: Hindi
Tag: कविता
1 Like · 92 Views
You may also like:
करीब आने नहीं देता
कवि दीपक बवेजा
“ वसुधेव कुटुम्बकंम ”
DrLakshman Jha Parimal
मां
Ram Krishan Rastogi
🍀🐦तुम्हारा हर हर्फ़ मलंग सा🐦🍀
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
"चंदा मामा, चंदा मामा"
राकेश चौरसिया
गाछ (लोकमैथिली हाइकु)
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
बिखरे अल्फ़ाज़
Satish Srijan
ज़िक्र तेरा लबों पे क्या आया
Dr fauzia Naseem shad
बारहमासी समस्या
Aditya Prakash
■ नज़्म / धड़कते दिलों के नाम...!
*Author प्रणय प्रभात*
मोहब्बत ना कर .......
J_Kay Chhonkar
* चांद बोना पड गया *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
समय और रिश्ते।
Anamika Singh
"ललकारती चीख"
Dr Meenu Poonia
सुना था हमने, इश्क़ बेवफ़ाई का नाम है
N.ksahu0007@writer
अल्लादीन का चिराग़
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
Advice
Shyam Sundar Subramanian
अहमियत
Dushyant Kumar
कवित्त
Varun Singh Gautam
रविवार को छुट्टी भाई (समय सारिणी)
Jatashankar Prajapati
जिंदगी एक बार
Vikas Sharma'Shivaaya'
सूर्य कुमार यादव
Shekhar Chandra Mitra
*डायरी के कुछ प्रष्ठ (कहानी)*
Ravi Prakash
सजल
Rashmi Sanjay
क्युं नहीं
Seema 'Tu hai na'
✍️इरादे हो तूफाँ के✍️
'अशांत' शेखर
हैं सितारे खूब, सूरज दूसरा उगता नहीं।
सत्य कुमार प्रेमी
संत की महिमा
Buddha Prakash
पता नहीं
shabina. Naaz
कब आओगे ,श्याम !( श्री कृष्ण जन्माष्टमी विशेष )
ओनिका सेतिया 'अनु '
Loading...