Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#6 Trending Author
Apr 26, 2022 · 1 min read

ये जज़्बात कहां से लाते हो।

इतने गहरे अल्फाज़ कहां से लाते हो।
पढ़कर दिल में उतर जाते है ये जज़्बात कहां से लाते हो।।1।।

लिखी बातों को अकबर बना देते हो।
सुकून देते है जिस्मे रूह को ये अहसास कहां से लाते हो।।2।।

आदत पड़ गयी है तुमको पढ़ने की।
यूं इतना गहरा लिखने का तुम ये अंदाज कहां से लाते हो।।3।।

तुम्हें पढ़कर हर जंग जीत लेता हूं।
गमों को मिटाते हो ये हार्फों के जाबांज कहां से लाते हो।।4।।

लिखने का आगाज़ नही पाता हूं।
लिखने का हमको हुनर बताओं शुरुआत जहां से लाते हो।।5।।

यहां हर कोई ही दुश्मनी रखता है।
हुजूम इकट्ठा कर लेते हो लोगो का साथ कहां से पाते हो।।6।।

ताज मोहम्मद
लखनऊ

2 Likes · 83 Views
You may also like:
बख्स मुझको रहमत वो अंदाज़ मिल जाए
VINOD KUMAR CHAUHAN
श्रृंगार
Alok Saxena
"जीवन"
Archana Shukla "Abhidha"
गर्मी पर दोहे
Ram Krishan Rastogi
किसको बुरा कहें यहाँ अच्छा किसे कहें
Dr Archana Gupta
जिन्दगी है की अब सम्हाली ही नहीं जाती है ।
Buddha Prakash
*!* अपनी यारी बेमिसाल *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
जलियांवाला बाग
Shriyansh Gupta
देखो
Dr.Priya Soni Khare
अनमोल घड़ी
Prabhudayal Raniwal
ये दुनियां पूंछती है।
Taj Mohammad
माँ
Dr. Meenakshi Sharma
*सदा तुम्हारा मुख नंदी शिव की ही ओर रहा है...
Ravi Prakash
तेरी हर बात सनद है, हद है
Anis Shah
प्रकाशित हो मिल गया, स्वाधीनता के घाम से
Pt. Brajesh Kumar Nayak
मुक्तक- उनकी बदौलत ही...
आकाश महेशपुरी
प्रार्थना(कविता)
श्रीहर्ष आचार्य
बे-पर्दे का हुस्न।
Taj Mohammad
ग्रीष्म ऋतु भाग ५
Vishnu Prasad 'panchotiya'
गुणगान क्यों
spshukla09179
आप तो आप ही हैं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
अग्रवाल समाज और स्वाधीनता संग्राम( 1857 1947)
Ravi Prakash
मरते वक्त उसने।
Taj Mohammad
*आचार्य बृहस्पति और उनका काव्य*
Ravi Prakash
💐मौज़💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
ग़ज़ल-ये चेहरा तो नूरानी है
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
योग तराना एक गीत (विश्व योग दिवस)
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
क्या देखें हम...
सूर्यकांत द्विवेदी
✍️मेरा मकान भी मुरस्सा होता✍️
"अशांत" शेखर
"हमारी मातृभाषा हिन्दी"
Prabhudayal Raniwal
Loading...