Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#27 Trending Author

यादों की भूलभुलैया में

यादों की भूलभुलैया में
हम खोए थे, डूबे भी रहे

जीवन की भागम-दौड़म से
हम चूर हुए, ऊबे भी रहे

नापाक कहे अब कोई पर
पाक कभी, मनसूबे भी रहे

थे हीरो अजब कहानी में
जोकर जैसे अजूबे भी रहे

•••

3 Likes · 152 Views
You may also like:
रामायण आ रामचरित मानस मे मतभिन्नता -खीर वितरण
Rama nand mandal
वक्त दर्पण दिखा दे तो अच्छा ही है।
Renuka Chauhan
बदलती परम्परा
Anamika Singh
मंदिर
जगदीश लववंशी
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग४]
Anamika Singh
घर
पंकज कुमार "कर्ण"
मकड़ी है कमाल
Buddha Prakash
अशोक विश्नोई एक विलक्षण साधक (पुस्तक समीक्षा)
Ravi Prakash
"मैं तुम्हारा रहा"
Lohit Tamta
पिता का प्यार
pradeep nagarwal
जगत जननी है भारत …..
Mahesh Ojha
त्रिशरण गीत
Buddha Prakash
भारत भाषा हिन्दी
शेख़ जाफ़र खान
O brave soldiers.
Taj Mohammad
💐खामोश जुबां 💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
चौकड़िया छंद / ईसुरी छंद , विधान उदाहरण सहित ,...
Subhash Singhai
मजदूरों की दुर्दशा
Anamika Singh
शब्दों के एहसास गुम से जाते हैं।
Manisha Manjari
मेरे गाँव में होने लगा है शामिल थोड़ा शहर [प्रथम...
AJAY AMITABH SUMAN
जिंदगी की रेस
DESH RAJ
ग्रीष्म ऋतु भाग २
Vishnu Prasad 'panchotiya'
एक ख़्वाब।
Taj Mohammad
थक चुकी हूं मैं
Shriyansh Gupta
कर्म करो
Anamika Singh
*तिरछी नजर *
Dr. Alpa H. Amin
मज़ाक बन के रह गए हैं।
Taj Mohammad
"शौर्यम..दक्षम..युध्धेय, बलिदान परम धर्मा" अर्थात- बहादुरी वह है जो आपको...
Lohit Tamta
रूखा रे ! यह झाड़ / (गर्मी का नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
Un-plucked flowers
Aditya Prakash
प्रेयसी पुनीता
Mahendra Rai
Loading...