Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Aug 5, 2022 · 1 min read

*यात्रा (कुंडलिया)*

*यात्रा (कुंडलिया)*
—————————————-
यात्रा में आता मजा, तन जब होता स्वस्थ
जाऍं चाहे वृद्धजन, या फिर युवा गृहस्थ
या फिर युवा गृहस्थ, नया परिवेश दिखाती
मिलता नव-आह्लाद, सीख नूतन दे जाती
कहते रवि कविराय, ज्ञान की बढ़ती मात्रा
रहे हमेशा याद, मधुर मनमोहक यात्रा
_________________________
रचयिता : रवि प्रकाश
बाजार सर्राफा
रामपुर उत्तर प्रदेश
मोबाइल 99976 15451

23 Views
You may also like:
✍️स्टेचू✍️
'अशांत' शेखर
आजादी का जश्न
DESH RAJ
संविधान विशेष है
Buddha Prakash
अखबार ए खास
AJAY AMITABH SUMAN
तेरे बिन
Harshvardhan "आवारा"
उलझन
Anamika Singh
असतो मा सद्गमय
Kanchan Khanna
✍️इंतजार में सावन की घड़ियां✍️
'अशांत' शेखर
करके शठ शठता चले
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
“ यादों के सहारे ”
DrLakshman Jha Parimal
हम है गरीब घर के बेटे
Swami Ganganiya
पुस्तैनी जमीन
आकाश महेशपुरी
बूंद बूंद में जीवन है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
💐कह भी डालो यार 💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मन को मोह लेते हैं।
Taj Mohammad
मिसाइल मैन
Anamika Singh
कविता 100 संग्रह
श्याम सिंह बिष्ट
कौन समझाए।
Taj Mohammad
इनक मोतियो का
shabina. Naaz
कोशिश
Anamika Singh
बदला
शिव प्रताप लोधी
आईना हूं सब सच ही बताऊंगा।
Taj Mohammad
तू सर्दियों की गुनगुनी धूप सा है।
Taj Mohammad
'कैसी घबराहट'
Godambari Negi
चेहरे पर कई चेहरे ...
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
जुल्म की इन्तहा
DESH RAJ
भारत माँ से प्यार
Swami Ganganiya
दिल के जख्म कैसे दिखाए आपको
Ram Krishan Rastogi
कभी कभी।
Taj Mohammad
तिनका तिनका करके।
Taj Mohammad
Loading...