Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Apr 20, 2022 · 2 min read

यकीन

✒️📙जीवन की पाठशाला 📖🖋️

🙏 मेरे सतगुरु श्री बाबा लाल दयाल जी महाराज की जय 🌹

जीवन चक्र ने मुझे सिखाया की हमेशा किस्मत को कोसते रहना या दोष देना भी बेवकूफी है -अक्सर कई बार कुछ गलत फैसले भी हमारी सही किस्मत को गलत कर देते हैं …,

जीवन चक्र ने मुझे सिखाया की जब जिम्मेदारियां चारों ओर से घेर लेती हैं ,आप एक अनचाहे चक्रव्यूह में फंस जाते हैं तब अमूमन सिर झुका कर बहुत कुछ सह कर सुनना और सहना पड़ता है ..गोया हमें कुछ नहीं पता ..ये वो समय होता है जब ऊंट पर बैठे इंसान को भी कुत्ता काट जाता है ..कैसे ?..सोचिये …?

जीवन चक्र ने मुझे सिखाया की इस कलयुग में लोग पैसे से तो धनी हो गए हैं पर सोच से निहायत ही गरीब हैं …,

आखिर में एक ही बात समझ आई की दर्द -गम -तकलीफ -खरीदने के लिए कहीं भी जाने की जरुरत नहीं बस आँख बंद करके कुछ लोगों पर यकीन कर लीजिये ,ये सब आपको थोक में मिल जायेंगे …!

Affirmations:
1-मेरी सोच बहुत ही सकारात्मक है…
2-मेरा मन पूर्णतया शांत है, मै सिर्फ अपने लक्ष्य पर केंद्रित हूँ ..
3-जीवन मे जो कुछ भी होता है सब अच्छे के लिए होता है…
4-मैं अपनी जिंदगी मे आने वाली हर मुसीबत को एक अवसर की तरह देखता हूं ,अपने आप को और शक्तिशाली बनाने का अवसर…
5-मैं अपने जीवन मे आने वाली चुनौतियों के लिये पूरी तरह से तैयार हूं..
6-मैं पूरी तरह से स्वस्थ हूं…
7-मै अपनी जिंदगी से बहुत प्यार करता हूं..

बाकी कल ,खतरा अभी टला नहीं है ,दो गज की दूरी और मास्क 😷 है जरूरी ….सावधान रहिये -सतर्क रहिये -निस्वार्थ नेक कर्म कीजिये -अपने इष्ट -सतगुरु को अपने आप को समर्पित कर दीजिये ….!
🙏सुप्रभात 🌹
आपका दिन शुभ हो
विकास शर्मा'”शिवाया”
🔱जयपुर -राजस्थान 🔱

57 Views
You may also like:
HAPPY BIRTHDAY SHIVANS
KAMAL THAKUR
हम भारत के लोग
Mahender Singh Hans
*भक्त प्रहलाद और नरसिंह भगवान के अवतार की कथा*
Ravi Prakash
आज नहीं तो कल होगा / (समकालीन गीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग ५]
Anamika Singh
पिता क्या है?
Varsha Chaurasiya
चलो जहाँ की रूसवाईयों से दूर चलें
VINOD KUMAR CHAUHAN
जीत-हार में भेद ना,
Pt. Brajesh Kumar Nayak
चंदा मामा बाल कविता
Ram Krishan Rastogi
काश मेरा बचपन फिर आता
Jyoti Khari
मेहनत
Arjun Chauhan
नन्हा बीज
मनोज कर्ण
✍️ये केवल संकलन है,पाठकों के लिये प्रस्तुत
"अशांत" शेखर
एक आवाज़ पर्यावरण की
Shriyansh Gupta
कभी सोचा ना था मैंने मोहब्बत में ये मंजर भी...
Krishan Singh
'तुम भी ना'
Rashmi Sanjay
इशारो ही इशारो से...😊👌
N.ksahu0007@writer
Heart Wishes For The Wave.
Manisha Manjari
कल्पना
Anamika Singh
✍️✍️तो सूर्य✍️✍️
"अशांत" शेखर
सृजनकरिता
DR ARUN KUMAR SHASTRI
He is " Lord " of every things
Ram Ishwar Bharati
बेटियाँ
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
जब तुमने सहर्ष स्वीकारा है!
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
समय ।
Kanchan sarda Malu
हवाओं को क्या पता
Anuj yadav
✍️हार और जित✍️
"अशांत" शेखर
पिता हैं छाँव जैसे
अंकित शर्मा 'इषुप्रिय'
पिता
Shailendra Aseem
"निरक्षर-भारती"
Prabhudayal Raniwal
Loading...