Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Jul 2022 · 1 min read

यकीन कैसा है

फिक्र कल की तुझे सताती है ।
तेरा रब पर यकीन कैसा है ।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
Tag: शेर
10 Likes · 234 Views
You may also like:
जय जय भारत देश महान......
Buddha Prakash
तुम्हीं तो हो ,तुम्हीं हो
Dr.sima
मधुशाला अभी बाकी है ।।
Prakash juyal 'मुकेश'
Writing Challenge- घर (Home)
Sahityapedia
पक्षियों से कुछ सीखें
Vikas Sharma'Shivaaya'
मन को युवा कीजिए
Ashish Kumar
खूबसूरत है तेरा
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
माई री ,माई री( भाग १)
Anamika Singh
अपना मुकदमा
Yash Tanha Shayar Hu
मम्मी म़ुझको दुलरा जाओ..
Rashmi Sanjay
हरित वसुंधरा।
Anil Mishra Prahari
सुनसान राह
AMRESH KUMAR VERMA
हुस्न में आफरीन लगती हो
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
अंग्रेजी का अखबार (हास्य व्यंग्य)
Ravi Prakash
मैं समंदर के उस पार था
Dalveer Singh
बेटियों तुम्हें करना होगा प्रश्न
rkchaudhary2012
टूट कर की पढ़ाई...
आकाश महेशपुरी
आदर्श पिता
Sahil
शायरी
Shyam Singh Lodhi Rajput (LR)
*ओ भोलेनाथ जी* "अरदास"
Shashi kala vyas
✍️कुछ तो वजह हो...
'अशांत' शेखर
अजब-गजब इन्सान...
डॉ.सीमा अग्रवाल
कविता पर दोहे
Ram Krishan Rastogi
हम फिर वही थे
shabina. Naaz
झूठे मुकदमे
Shekhar Chandra Mitra
ज़ब्त की जिसमें
Dr fauzia Naseem shad
दुनियादारी में
surenderpal vaidya
ना चीज़ हो गया हूँ
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
एक दिया जलाये
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
ज़िंदा हूं मरा नहीं हूं।
Taj Mohammad
Loading...