Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

“मोबाइल बना खिलौना”

“मोबाइल बना खिलौना”
*******************

देखो, मोबाइल बना खिलौना,
इसके असर से बच्चे हो रहे काना।
जिसको देखो, बैठा है पकड़ एक कोना,
दृश्य देखकर लगता कितना घिनौना।।

बेटा देखे, बेटी देखे,
मां देखे और देखे इसको बाप।
कुछ इसपर पढ़ते,कुछ खेलते और,
कुछ करते इसपर कई पाप।।

असली पढ़ाई तो अब हो गई हवाई,
जब से कान में ठेपी और कंझप्पा लगाई।
पता नही क्या है इस मर्ज की दवाई,
इस यंत्र ने बिगाड़ दिए कितनों की लुगाई।।

नौकरी पाना अब हो गया कितना आसान,
इसको लूट ले जा रहे, मोबाइल रहित इंसान।
अक्ल का जिसको मिला था वरदान,
वो तो मोबाइलिक यंत्र से ही परेशान।।

मोबाइल ने कितनों को कवि बनाया,
और कितनों को बनाया लेखक।
कितने ही प्रेमी -प्रेमिका को मिलाया,
और कितनों को बनाया कई मंचो का सचेतक।।

इसने बिसरा दिया दूरभाष और डाक- तार को,
खत्म कर दिया हमारे सारे पत्राचार को।
इसके चलते तरसते लोग आपसी प्यार को,
प्रभावित किया है इसने सबके आचार- व्यवहार को।।

वैसे जगह -जगह मोबाइल बना है वरदान,
इससे अपनों के संपर्क में रहना हो गया बहुत आसान।
कुछ भी हो, जीवन में ये अब बहुत जरूरी है,
इसको संग रखना सबकी मजबूरी है।। ? ?

स्वरचित सह मौलिक

पंकज कर्ण
कटिहार
संपर्क-8936068909

8 Likes · 2 Comments · 568 Views
You may also like:
अखंड भारत की गौरव गाथा।
Taj Mohammad
कारण के आगे कारण
सूर्यकांत द्विवेदी
#हे__प्रेम
Varun Singh Gautam
वही ज़िंदगी में
Dr fauzia Naseem shad
ख़ामोश अल्फाज़।
Taj Mohammad
क्या तुम आजादी के नाम से, कुछ भी कर सकते...
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
जिन्दगी है हमसे रूठी।
Taj Mohammad
रसिया यूक्रेन युद्ध विभीषिका
Ram Krishan Rastogi
💐 देह दलन 💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
वेदना जब विरह की...
अश्क चिरैयाकोटी
वो प्यार कैसा
Nitu Sah
यशोधरा के प्रश्न गौतम बुद्ध से
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
पागल बना दे
Harshvardhan "आवारा"
शोहरत नही मिली।
Taj Mohammad
ताला-चाबी
Buddha Prakash
✍️किताबें और इंसान✍️
'अशांत' शेखर
अधुरा सपना
Anamika Singh
पिता
Madhu Sethi
आता है याद सबको ही बरसात में छाता।
सत्य कुमार प्रेमी
ज़िंदगी बे'जवाब रहने दो
Dr fauzia Naseem shad
मेरी कलम से किस किस की लिखूँ मैं कुर्बानी।
PRATIK JANGID
घर घर तिरंगा फहराएंगे
Ram Krishan Rastogi
सावधान हो जाओ, मुफ्त रेवड़ियां बांटने बालों
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
गुनाह ए इश्क।
Taj Mohammad
" एक हद के बाद"
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
*अंग्रेजों के सिक्कों में झाँकता इतिहास*
Ravi Prakash
पर्यावरण दिवस
Ram Krishan Rastogi
प्रेयसी
Dr. Sunita Singh
नींद खो दी
Dr fauzia Naseem shad
*रक्षा भारत की करें (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
Loading...