Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jul 28, 2016 · 1 min read

मॉर्निंग वॉक पर कुछ पंक्तियाँ..

सेहत के वास्ते मॉर्निंग वॉक …
कुछ पंक्तियाँ ..

1….कलियाँ फूल पत्ते झुकी डालियाँ और बहती शीतल हवायें
सुबह सुबह की चहल कदमी में मिलती ये सेहत की दवायें

2
मॉर्निंग वॉक करके मैं तो मीत आया हूँ
जैसे सूरज को ही आज जीत आया हूँ

3.

सुबह सुबह की चहल कदमी ही लगने लगी अब कारगार
सेहत को तंदरुस्त रखने का इससे नही कोई उपाय धारदार

4..

मॉर्निंग वॉक के नाम पर ही थोडा घूम तो लीजिये

सूरज की पहली किरण के साथ झूम तो लीजिये

“दिनेश”

3 Comments · 118 Views
You may also like:
बुरा तो ना मानोगी।
Taj Mohammad
एक तोला स्त्री
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
हे कुंठे ! तू न गई कभी मन से...
ओनिका सेतिया 'अनु '
पुन्हा..!
"अशांत" शेखर
यह कौन सा विधान है
Vishnu Prasad 'panchotiya'
धूप कड़ी कर दी
सिद्धार्थ गोरखपुरी
नभ के दोनों छोर निलय में –नवगीत
रकमिश सुल्तानपुरी
धन-दौलत
AMRESH KUMAR VERMA
अलबेले लम्हें, दोस्तों के संग में......
Aditya Prakash
हाइकु:(कोरोना)
Prabhudayal Raniwal
मिट्टी की कीमत
निकेश कुमार ठाकुर
वृक्ष थे छायादार पिताजी
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
रुक जा रे पवन रुक जा ।
Buddha Prakash
माँ — फ़ातिमा एक अनाथ बच्ची
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
पिता अम्बर हैं इस धारा का
Nitu Sah
शब्दों से परे
Mahendra Rai
भगवान श्री परशुराम जयंती
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
लड़ते रहो
Vivek Pandey
💐ये मेरी आशिकी💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
गुरू गोविंद
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
दो शरारती गुड़िया
Prabhudayal Raniwal
देश के हालात
Shekhar Chandra Mitra
सहारा
अरशद रसूल /Arshad Rasool
तन्हा ही खूबसूरत हूं मैं।
शक्ति राव मणि
✍️अमृताचे अरण्य....!✍️
"अशांत" शेखर
कर्म पथ
AMRESH KUMAR VERMA
ये दिल टूटा है।
Taj Mohammad
तिरंगा मेरी जान
AMRESH KUMAR VERMA
" हसीन जुल्फें "
DESH RAJ
महापंडित ठाकुर टीकाराम (18वीं सदीमे वैद्यनाथ मंदिर के प्रधान पुरोहित)
श्रीहर्ष आचार्य
Loading...