Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Apr 24, 2022 · 1 min read

मैं उनको शीश झुकाता हूँ

मैं उनको शीश झुकाता हूँ
हिन्द जिनकी जान था
जिनके रक्त के एक एक कतरे में
हिंदुस्तान जिंदाबाद था !

✍✍Dheerendra panchal (Dheeru)

71 Views
You may also like:
न थी ।
Rj Anand Prajapati
My dear Mother.
Taj Mohammad
जब चलती पुरवइया बयार
श्री रमण
* राहत *
Dr. Alpa H. Amin
वक्त और दिन
DESH RAJ
एक दूजे के लिए हम ही सहारे हैं।
सत्य कुमार प्रेमी
💐 निगोड़ी बिजली 💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मुस्कुराहट का नाम है जिन्दगी
Anamika Singh
अल्फाज़ हैं शिफा से।
Taj Mohammad
पिता
Madhu Sethi
हैं पिता, जिनकी धरा पर, पुत्र वह, धनवान जग में।।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
तेरा प्यार।
Taj Mohammad
✍️जीवन की ऊर्जा है पिता...!✍️
"अशांत" शेखर
*~* वक्त़ गया हे राम *~*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
जो बीत गई।
Taj Mohammad
मुझे तुम्हारी जरूरत नही...
Sapna K S
वेदना जब विरह की...
अश्क चिरैयाकोटी
ट्रेजरी का पैसा
Mahendra Rai
🍀🌺प्रेम की राह पर-44🍀🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
तुम्हीं तो हो ,तुम्हीं हो
Dr.sima
#पूज्य पिता जी
आर.एस. 'प्रीतम'
बेरोजगारी जवान के लिए।
Taj Mohammad
गर्मी पर दोहे
Ram Krishan Rastogi
दुआ
Alok Saxena
आजमाइशें।
Taj Mohammad
गौरैया बोली मुझे बचाओ
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
यही है भीम की महिमा
Jatashankar Prajapati
काश अपना भी कोई चाहने वाला होता।
Taj Mohammad
दिल्ली की कहानी मेरी जुबानी [हास्य व्यंग्य! ]
Anamika Singh
✍️ये अज़ीब इश्क़ है✍️
"अशांत" शेखर
Loading...