Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
May 25, 2021 · 1 min read

मैंने यह जीवन _______ शेर

मैंने यह जीवन तेरे नाम किया।
तूने भी तो यही काम किया।
संग संग जी रहे हैं, प्याला प्यार का पी रहे है।
साजन _ सजनी हम,युगलों को पैगाम दिया।।
राजेश व्यास अनुनय

4 Likes · 4 Comments · 173 Views
You may also like:
सुरत और सिरत
Anamika Singh
@@कामना च आवश्यकता च विभेदः@@
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
बरसात की छतरी
Buddha Prakash
'जियो और जीने दो'
Godambari Negi
मैं धरती पर नीर हूं निर्मल, जीवन मैं ही चलाता...
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
इच्छाओं का घर
Anamika Singh
मन की व्यथा।
Rj Anand Prajapati
"मातल "
DrLakshman Jha Parimal
फिजूल।
Taj Mohammad
मेरे पापा
Anamika Singh
💐नव ऊर्जा संचार💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
भगवा हटा बिहार में, चढ़ गया हरा रंग
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
*सारथी बनकर केशव आओ (भक्ति-गीत)*
Ravi Prakash
ना मायूस हो खुदा से।
Taj Mohammad
कुछ अल्फाज़ खरे ना उतरते हैं।
Taj Mohammad
बस तुम ही तुम हो।
Taj Mohammad
✍️खलबली✍️
'अशांत' शेखर
राह कोई ऐसी
Seema 'Tu haina'
पुनर्विवाह
Anamika Singh
क़िस्मत का सितारा।
Taj Mohammad
देह मिलन
Kavita Chouhan
सोचता रहता है वह
gurudeenverma198
ग़ज़ल
Mahendra Narayan
हमने हंसना चाहा।
Taj Mohammad
खड़ा बाँस का झुरमुट एक
Vishnu Prasad 'panchotiya'
पागल बना दे
Harshvardhan "आवारा"
अल्फाज़ हैं शिफा से।
Taj Mohammad
चेतना के उच्च तरंग लहराओं रे सॉवरियाँ
Dr.sima
त्रिशरण गीत
Buddha Prakash
दोहे एकादश ...
डॉ.सीमा अग्रवाल
Loading...