Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Sep 21, 2021 · 1 min read

*मेरे देश का सैनिक*

****************************
मेरे “देश” का सैनिक कमजोर नहीं!
किसी “दुश्मन-सैनिक” से कम नहीं।
यदि अपनी औकात पर आ जाये तो,
समझ लो फिर, दुश्मन की खैर नहीं।
मेरे भारत देश के, ये बहादुर सैनिक !
जो अपने देश की सीमा के है रक्षक।
हमें शक नहीं अपने वीर जवानों पर!
परन्तु देश के भीतर कौन है- रक्षक.?
*जयहिंद***********जय जवान!*
****************************
*रचयिता: प्रभु दयाल रानीवाल*==
===*उज्जैन*{मध्यप्रदेश}*=====
****************************

1 Like · 1423 Views
You may also like:
मेरे मुस्कराने की वजह तुम हो
Ram Krishan Rastogi
"मैं फ़िर से फ़ौजी कहलाऊँगा"
Lohit Tamta
वो दिन भी बहुत खूबसूरत थे
Krishan Singh
मील का पत्थर
Anamika Singh
बदरा कोहनाइल हवे
सन्तोष कुमार विश्वकर्मा 'सूर्य'
किसकी पीर सुने ? (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
खुद को न मिटने दो
Anamika Singh
देखो
Dr.Priya Soni Khare
इंसानों की इस भीड़ में
Dr fauzia Naseem shad
ऊपज
Mahender Singh Hans
जुल्म
AMRESH KUMAR VERMA
सच्चा रिश्ता
DESH RAJ
कहते हैं न....
Varun Singh Gautam
कभी-कभी आते जीवन में...
डॉ.सीमा अग्रवाल
✍️क़हर✍️
'अशांत' शेखर
एक संकल्प
Aditya Prakash
गीत... हो रहे हैं लोग
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
नज़रे उठाके देख लो।
Taj Mohammad
अचार का स्वाद
Buddha Prakash
✍️बूढ़ा शज़र लगता है✍️
'अशांत' शेखर
मुझे तुम्हारी जरूरत नही...
Sapna K S
आग का दरिया।
Taj Mohammad
“ कोरोना ”
DESH RAJ
✍️कालचक्र✍️
'अशांत' शेखर
तनिक पास आ तो सही...!
Dr. Pratibha Mahi
*श्री शचींद्र भटनागर : एक अध्यात्मवादी गीतकार*
Ravi Prakash
वो हक़ीक़त
Dr fauzia Naseem shad
फरियाद
Anamika Singh
रसूल ए खुदा।
Taj Mohammad
लोभ का जमाना
AMRESH KUMAR VERMA
Loading...