Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings

मेरी हिन्दी

हिन्दी की करुण व्यथा का,
मैं क्या बयान करूँ?
हिन्दी की सब हिन्दी करते,
इंग्लिश पर अभिमान क्यों?
बात यहाँ की शब्द वहाँ के,
चाल यहाँ की,ढाल वहाँ के,
हिन्दी नहीं हिंगलिश बकते,
शिक्षा का ये अंजाम क्यों?
सुट-बूट में तकती हिन्दी,
होड़ दौड़ में दबती हिन्दी,
बात बात में कटती रहती,
हिन्दी का ये अपमान क्यों?
साहित्य की सपन्न हिन्दी,
मातृ कंठ में बसती हिन्दी,
शब्दों में सागर सी रमती,
स्वर शक्ति से अनजान क्यों?
चीनी पड़ते चीनी शिक्षा,
रुसी लेते रुसी दीक्षा,
हिन्दी को समझे क्यों दूजा,
उच्चशिक्षा में ये अभिशाप क्यों?
सब भाषाओँ से जुड़ती हिन्दी,
सहज भाव से मुड़ती हिन्दी,
कवियों के कर में खिलती,
इस उपवन में ये शाम क्यों?
(डॉ शिव”लहरी”)

3 Likes · 1 Comment · 439 Views
You may also like:
पापा क्यूँ कर दिया पराया??
Sweety Singhal
मेरी तकदीर मेँ
Dr fauzia Naseem shad
कौन दिल का
Dr fauzia Naseem shad
दोहा छंद- पिता
रेखा कापसे
सिद्धार्थ से वह 'बुद्ध' बने...
Buddha Prakash
* सत्य,"मीठा या कड़वा" *
मनोज कर्ण
तुम हमें तन्हा कर गए
Anamika Singh
Life through the window during lockdown
ASHISH KUMAR SINGH
✍️क्या सीखा ✍️
Vaishnavi Gupta
हायकु मुक्तक-पिता
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
✍️वो इंसा ही क्या ✍️
Vaishnavi Gupta
बाबू जी
Anoop Sonsi
पिता
Dr.Priya Soni Khare
आइना हूं मैं
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
बरसात
मनोज कर्ण
बेटी का पत्र माँ के नाम
Anamika Singh
इज़हार
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
दिलों से नफ़रतें सारी
Dr fauzia Naseem shad
बरसात आई झूम के...
Buddha Prakash
मेरी उम्मीद
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
आपको याद भी तो करते हैं
Dr fauzia Naseem shad
पिता
नवीन जोशी 'नवल'
जी, वो पिता है
सूर्यकांत द्विवेदी
काश....! तू मौन ही रहता....
Dr. Pratibha Mahi
उनकी यादें
Ram Krishan Rastogi
श्री राम स्तुति
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
गांव शहर और हम ( कर्मण्य)
Shyam Pandey
परिवाद झगड़े
ईश्वर दयाल गोस्वामी
*जय हिंदी* ⭐⭐⭐
पंकज कुमार कर्ण
हमको जो समझे हमीं सा ।
Dr fauzia Naseem shad
Loading...