Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#5 Trending Author
Jun 1, 2022 · 1 min read

मेरी ये जां।

मेरी ये जां मेरे वतन के लिए कुर्बान है।
एक हिन्दुस्तानी होना मेरे लिए शान है।।1।।

हिंदू मुस्लिम सिख ईसाई है भाई भाई।
हर मज़हब के सारे ही यहां भगवान है।।2।।

बदलता मौसम इस देश की पहचान है।
कारोबार में मेरा भारत कृषि प्रधान है।।3।।

दुश्मन भी जो आए घर तो मेहमान है।
अतिथि देवो भव: यहां के संस्कार है।।4।।

भारत की रक्षा को सरहद पे जवान है।
श्रवण के जैसे पुत्र यहां तारण-हार है।।5।।

सम्पूर्ण प्रकृति में सुंदरता विद्यमान है।
राम रहीम यहां एक दुसरे की जान है।।6।।

ताज मोहम्मद
लखनऊ

2 Likes · 2 Comments · 103 Views
You may also like:
मित्र
लक्ष्मी सिंह
जीवन की प्रक्रिया में
Dr fauzia Naseem shad
आईना और वक्त
बिमल
इब्ने सफ़ी
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कुछ लोग यूँ ही बदनाम नहीं होते...
मनोज कर्ण
काव्य संग्रह
AJAY PRASAD
'तुम्हारे बिना'
Rashmi Sanjay
उफ ! ये गर्मी, हाय ! गर्मी / (गर्मी का...
ईश्वर दयाल गोस्वामी
ख़ुशी
Alok Saxena
माटी जन्मभूमि की दौलत ......
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
दुनियाँ की भीड़ में।
Taj Mohammad
मोहब्बत ना कर .......
Jitendra Chhonkar
पिता की याद
Meenakshi Nagar
कोई एहसास है शायद
Dr fauzia Naseem shad
फारसी के विद्वान श्री नावेद कैसर साहब से मुलाकात
Ravi Prakash
" विचित्र उत्सव "
Dr Meenu Poonia
ये दिल टूटा है।
Taj Mohammad
किस्मत एक ताना...
Sapna K S
बचे जो अरमां तुम्हारे दिल में
Ram Krishan Rastogi
समय और मेहनत
Anamika Singh
पिता
Neha Sharma
Angad tiwari
Angad Tiwari
गुमनाम मुहब्बत का आशिक
श्री रमण 'श्रीपद्'
तुमने वफा न निभाया
Anamika Singh
हर रास्ते की अपनी इक मंजिल होती है।
Taj Mohammad
बदल कर टोपियां अपनी, कहीं भी पहुंच जाते हैं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
बदलती परम्परा
Anamika Singh
कभी ज़मीन कभी आसमान.....
अश्क चिरैयाकोटी
पर्यावरण बचा लो,कर लो बृक्षों की निगरानी अब
Pt. Brajesh Kumar Nayak
✍️जेरो-ओ-जबर हो गये✍️
'अशांत' शेखर
Loading...