Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Nov 2022 · 1 min read

मेरी दादी के नजरिये से छोरियो की जिन्दगी।।

सुबह चार बजे से शुरू हो जाना चाहिए दिन।
किसी भी कार्य में सफलता हासिल करने के लिए इस क्षण से ,वह कार्य शुरू करना आवश्यक है।
दिन रात तानों की बरसात नही होने से छोकरी अच्छी इन्सान नही बनती।
क्नयायों को थोरी शांत स्वभाव की ही होनी चाहिए ठिक लक्ष्मी माता के स्वरूप जैसे।
छोरियो को देना चाहिए उनकी स्वाधीनता पर लगाम।
नही तो कर आएँगी कोई उल्टा सीधा काम।
उनकी नौकरियों पर लगाए जा रहे हैं मनाही।
डाक्टर , टीचर , कूक या गृह वधु काम है बस यही।
लड़कों से बात करना है दण्डनीय अपराध।
अरे इन लड़कियों को कोई तो बेड़ी से बाँध।
शादी के बाद क्या करेगी, काम तो कुछ आता नही।
“”अरे नारी है कब किसी से हारी।
उसके बिना है सूनी जग सारी।
रंग रूप भाड़ में जाए।
कमाई रौनक घर लाए।'””
अगर कोई पूछे नौकरी करके घर को समय कैसे देती हो,
मैं जवाब दूँगी जैसे आप मेरी जिन्दगी में टाँग अड़ाते हो।

Language: Hindi
4 Likes · 4 Comments · 59 Views
You may also like:
Aksharjeet shayari..अपनी गलतीयों से बहुत कूछ सिखा हैं मैने ...
AK Your Quote Shayari
*श्री महेश राही जी (श्रद्धाँजलि/गीतिका)*
Ravi Prakash
हक
shabina. Naaz
एक खास याद 'बापू' के नाम
Seema 'Tu hai na'
बाल कविता: तितली चली विद्यालय
Rajesh Kumar Arjun
प्रेम तुम्हारा ...
डॉ.सीमा अग्रवाल
सोचना है तो मेरे यार इस क़दर सोचो
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
जीवनमंथन
Shyam Sundar Subramanian
एहतराम करते है।
Taj Mohammad
थप्पड़ की गूंज
Shekhar Chandra Mitra
Green and clean
Aditya Prakash
पहले प्यार में
श्री रमण 'श्रीपद्'
भूत अउर सोखा
आकाश महेशपुरी
वक़्त का भी कहां
Dr fauzia Naseem shad
प्रेम
लक्ष्मी सिंह
लेट्स मि लिव अलोन
gurudeenverma198
सवाल में ज़िन्दगी के आयाम नए वो दिखाते हैं, और...
Manisha Manjari
तुम्हें अकेले चलना होगा
Abhishek Pandey Abhi
कह दूँ बात तो मुश्किल
Dr. Sunita Singh
■ तेवरी / कक्का
*Author प्रणय प्रभात*
फ़िदा
Buddha Prakash
प्रेम
Dr.Priya Soni Khare
✍️आग तो आग है✍️
'अशांत' शेखर
गुमूस्सेर्वी "Gümüşservi "- One of the most beautiful words of...
अमित कुमार
ग़ज़ल
Mahendra Narayan
💐💐परमार्थ: तथा प्रतिपरमार्थ:💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
रखते हैं प्रभु ही सदा,जग में सबका ध्यान।
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
" शैतान रोमी "
Dr Meenu Poonia
गणतंत्र दिवस
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
बेदर्द -------
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
Loading...