Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 5, 2021 · 1 min read

मेरा हिसाब कर दे

ए जिंदगी चल आज मेरा हिसाब कर दे
कितना कमाया और गवाया कितना
तैयार तू आज सारे कागजात कर दे

ले आ एक तराजू तोल दोनों पलडो में
कुछ वजन तू रख कुछ वजन मैं रखु

ये खुशी ये महोब्बत गिरेगी तेरे पलड़े में
ये आँसु ये फरियाद गिरेंगे मेरे पलड़े में

इंसान हल्का सा रोया माँ की ममता देदी
जरा सा गिरने पर पिता की उँगली देदी

ये हवा ये खूबसूरत फ़िजा तेरे पलड़े में
ये अफवाह ये हुल्लड़ सब मेरे पलड़े में

लगते ही प्यास पानी का प्याला दे दिया
लगते ही भूख अन्न का निवाला दे दिया

ये लहलहाते खेत ये कुआँ तेरे पलड़े में
ये नफरत ये जहरीला धुआँ मेरे पलड़े में

हर बार तेरा तरफ़दार रहा ये तराजू
हिसाब की अब मुझे नहीं कोई आरजू
बना रहे संतुलन इन दोनों पलड़े का
बस यही है अब मेरी आखरी आरज़ू

आओं हम सब करें इस धरती से प्रीती
दिलों में बना ले इसकी एक आकृति
ये दुनिया अगर मोहब्बत से न जीती
तो सिकंदर तूने भी इसे बेकार ही जीती
Happy world environment day

2 Likes · 187 Views
You may also like:
दया करो भगवान
Buddha Prakash
जुल्म की इन्तहा
DESH RAJ
तपिसों में पत्थर
Dr. Sunita Singh
मुबारक हो।
Taj Mohammad
दिल के जख्म कैसे दिखाए आपको
Ram Krishan Rastogi
इरादा
Shivam Sharma
कृष्ण पक्ष// गीत
Shiva Awasthi
मैं द्रौपदी, मेरी कल्पना
Anamika Singh
जय हिन्द , वन्दे मातरम्
Shivkumar Bilagrami
सौगंध
Shriyansh Gupta
विन मानवीय मूल्यों के जीवन का क्या अर्थ है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
एहतराम करते है।
Taj Mohammad
✍️दिल शायर होता है...✍️
'अशांत' शेखर
हाइकु__ पिता
Manu Vashistha
ग़ज़ल -
Mahendra Narayan
कोशिश करने वालों की हार नहीं होती हैं
DR ARUN KUMAR SHASTRI
प्रश्न पूछता है यह बच्चा
अटल मुरादाबादी, ओज व व्यंग कवि
कर्ण और दुर्योधन की पहली मुलाकात
AJAY AMITABH SUMAN
किताब
Seema Tuhaina
शिक्षा संग यदि हुनर हो...
मनोज कर्ण
सरसी छंद और विधाएं
Subhash Singhai
बेवफाई
Anamika Singh
जनसंख्या नियंत्रण कानून कब ?
Deepak Kohli
प्रकृति की नज़ाकत
Dr.Alpa Amin
✍️खुशी✍️
'अशांत' शेखर
अत्याचार
AMRESH KUMAR VERMA
माटी जन्मभूमि की दौलत ......
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
गज़ल
Saraswati Bajpai
चलो जहाँ की रूसवाईयों से दूर चलें
VINOD KUMAR CHAUHAN
तेरी खैर मांगता हूं खुदा से।
Taj Mohammad
Loading...