Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#17 Trending Author

मेरा वतन मेरा चमन


रवि जहाँ से उगता है,
किरणों को फैलाता है|
नई सुबह की खोज में जब,
गगनचुंभि तक जाता है|
नए जोश और नव निर्माण का,
नया उजाला लाता है|
तभी वतन के लोगों में,
नवजोश उत्पन्न हो जाता है|


फूल से फूल मिले तो,
एक नया बाग बन जाता है|
कदम से कदम मिले तो,
एक नया पथ बन जाता है|
ईंट से ईंट मिले तो,
महल नया बन जाता है|
सुर से सुर मिले तो,
राग नया बन जाता है|
हाथ से हाथ मिले तो,
एक नया राष्ट्र बन जाता है|
नवप्रभात के संग मिलकर,
एक नया सवेरा आता है|


संगणक का है जमाना,
तारतम्यता का है फसाना|
अधिन्यासों का है दौर,
भारत की सभ्यता और संस्कृति का है
यह तराना|
अतुल्य भारत को दर्शाने,
आज एकत्र हुआ है|
भारत का हर एक चाहने वाला|
भारत का हर एक चाहने वाला|

176 Views
You may also like:
✍️सिर्फ दो पल...दो बातें✍️
"अशांत" शेखर
मौत।
Taj Mohammad
"एक नई सुबह आयेगी"
पंकज कुमार "कर्ण"
Destined To See A Totally Different Sight
Manisha Manjari
जाऊं कहां मैं।
Taj Mohammad
تیری یادوں کی خوشبو فضا چاہتا ہوں۔
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
बुरी आदत की तरह।
Taj Mohammad
ज़ुबान से फिर गया नज़र के सामने
कुमार अविनाश केसर
सांसें कम पड़ गई
Shriyansh Gupta
कबीर के राम
Shekhar Chandra Mitra
-:फूल:-
VINOD KUMAR CHAUHAN
नई जिंदगानी
AMRESH KUMAR VERMA
पहला प्यार
Dr. Meenakshi Sharma
समंदर की चेतावनी
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
✍️क्रांतिसूर्य✍️
"अशांत" शेखर
💐💐तुमसे दिल लगाना रास आ गया है💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
💐प्रेम की राह पर-34💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
यह चिड़ियाँ अब क्या करेगी
Anamika Singh
एक मजदूर
Rashmi Sanjay
सृजनकरिता
DR ARUN KUMAR SHASTRI
आजादी
AMRESH KUMAR VERMA
*अमूल्य निधि का मूल्य (हास्य व्यंग्य)*
Ravi Prakash
हम गीत ख़ुशी के गाएंगे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग ५]
Anamika Singh
आज अपने ही घर से बेघर हो रहे है।
Taj Mohammad
हवा के झोंको में जुल्फें बिखर जाती हैं
VINOD KUMAR CHAUHAN
ग्रीष्म ऋतु भाग ५
Vishnu Prasad 'panchotiya'
"शौर्य"
Lohit Tamta
सारे द्वार खुले हैं हमारे कोई झाँके तो सही
Vivek Pandey
नियमित बनाम नियोजित(मरणशील बनाम प्रगतिशील)
Sahil
Loading...