Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 16, 2021 · 1 min read

मेरा भी कुछ हिसाब बाकी

मेरा भी कुछ हिसाब बाकी
सूखे शब्दों के मत भेदों ,
कुछ -कुछ नरम गरम ,
भूली – बिखरी कर्म ,
उलझी – सुलझी धर्म ।

श्वास कम उम्र ज्यादा,
रात कम ख्वाब ज्यादा,
खुशी कम गम ज्यादा,
इश्क कम जीद ज्यादा ।

माप -तोल तो हुआ नहीं,
हिसाब तो रखा भी नहीं,
किसका जायदा किसका कम,
बाकी कुछ हिसाब अभी ।

अब तो भाग्य पर छोडी,
कर्म खराब तो किया नहीं,
धर्म अपना भी छोडी नहीं,
पाप पूर्ण का हिसाब रखी नहीं ।

वापसी आ कर देख लो,
लाभ नुकसान का खाता,
लाभ आप ही रख लेना,
नुकसान मुझे दे देना।

जो बोलिएगा मान लुंगी,
मिल बैठ कर गलतफहमी दूर होगी,
तनहाई की हिसाब अभी बाकी रहेगी
इसी बहाने एक बार देख लूंगी ।

बेबेसी की कहानी सुना पाऊंगी,
खुशियां कितनी किमती बता पाऊंगी,
घाव अभी भरे नहीं दिखा पाऊंगी,
बस एक बार लौट के आ जाइए।
मेरा भी कुछ हिसाब बाकी ।।

गौतम साव

4 Likes · 6 Comments · 186 Views
You may also like:
*बुद्ध पूर्णिमा 【कुंडलिया】*
Ravi Prakash
प्यार करते हो मुझे तुम तो यही उपहार देना
Shivkumar Bilagrami
मौसम की तरह तुम बदल गए हो।
Taj Mohammad
भूल कैसे हमें
Dr fauzia Naseem shad
हे शिव ! सृष्टि भरो शिवता से
Saraswati Bajpai
सिरत को सजाओं
Anamika Singh
पिता का पता
श्री रमण 'श्रीपद्'
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग३]
Anamika Singh
✍️ताला और चाबी✍️
'अशांत' शेखर
तुम पतझड़ सावन पिया,
लक्ष्मी सिंह
मैं तुम्हें पढ़ के
Dr fauzia Naseem shad
पिता
Rajiv Vishal
पापा की परी...
Sapna K S
शेर
dks.lhp
रावण का प्रश्न
Anamika Singh
आदतें
AMRESH KUMAR VERMA
ये लखनऊ है मेरी जान।
Taj Mohammad
लघुकथा: ऑनलाइन
Ravi Prakash
चुप ही रहेंगे...?
मनोज कर्ण
सदगुण ईश्वरीय श्रंगार हैं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मेहनत का फल
Buddha Prakash
🌺प्रेम की राह पर-54🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
अपने दिल को।
Taj Mohammad
'विजय दिवस'
Godambari Negi
मैं सोता रहा......
Avinash Tripathi
हाइकु:(लता की यादें!)
Prabhudayal Raniwal
मेरे हर सिम्त जो ग़म....
अश्क चिरैयाकोटी
One should not commit suicide !
Buddha Prakash
* तेरी चाहत बन जाऊंगा *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
'देवरापल्ली प्रकाश राव'
Godambari Negi
Loading...