Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jan 23, 2017 · 2 min read

मुहिम

मुहिम
कैसे हो पारसजी ?कहते हूँए विमलजी बंगलो की सोसायटी में बने गार्डन की बेंच पर बैठकर बातें करने लगे।
“आज जल्दी ऑफिस से … ?”
“आपको तो पता है बगल में मेरे भाई का लड़का जो अमरीका में है उसका नया मकान बन रहा है, तो जल्दी आकर थोड़ी निगरानी रख लेता हूँ ,ओर आप बताईये ….अरे ,ये यंग बच्चे वॉलीबॉल खेलने की बजाय अपना सर मोबाईल के सामने ज़ुकाये क्यों बैठे है ?” बगल में बैठे नवयुवको को देख विमल जी बोले।
“अब क्या कहे ?कुछ कहेंगे तो हमें कह देंगे ‘अंकल आपको ये मोबाईल की दुनिया समज़ नहीं आएगी। ”
विमलजी ने एक गहरी सांस ली और थोड़ा नज़दीक जाकर पारसजी को कहने लगे ,
“पारसजी मेरा बेटा और बहूँ तो बेटी के साथ अमरीका हमारी ऑफिस हेंडल कर रहे है और अपने हाईस्कूल पढ़ते बेटे को मेरी निगरानी में रख छोड़ा है ,वैसे तो मेरा पोता विकल बहूत होनहार है और मेरा भी बहोत ध्यान रखता है ,लेकिन इन दिनों मै थोड़ी दुविधा में पड़ गया हूँ। ”
“बेजिज़क बताइये ,दिल का बोज़ थोड़ा कम हो जायें।”
“मैं अपनी ऑफिस में काफी कमप्युटर वर्क कर लेता हूँ ,आज मैंने अर्जन्ट एक इ-मेल करनी थी तो घर आकर विकल का कम्प्यूटर इस्तेमाल करने के लिए खोला , उसमे काफी बीभत्स प्रकार के वेबसाइट और अपने फ्रेंड्स के साथ शेर किये हुए फोटोज़ वगैरह देखे और मेरा सर चकरा गया ।बुरी संगत में कहींसे सीखकर लाते है,उसने जल्दी में कमप्युटर खुला छोड़ दिया था ।”
“ओहह् ,ये तो बहोत गंभीर बात है ”
“मैंने स्कुल के पेरंट्स एसोसिएशन को सूचित किया है ओर किसी को भी पता न चले इस तरह से सायबर क्राइम को संपर्क किया।अब मैं चाहता हूँ की हमारे साथ आप बाक़ी के मित्रो को भी जोड़े ।सबसे पहले हम बच्चो को अच्छे साहित्य की और मोड़ने के प्रयास करेंगे।”
“जरूर ,ये तो बहोत ही आवश्यक मुहिम छेड़ी है आपने ,में अभी अपने बाकी मित्रो को भी सूचित करता हूँ ,अब आप इस लड़ाई में अकेले नहीं हो।”
और …विमलजी की आँखों में ख़ुशी की चमक आ गयी।
-मनीषा जोबन देसाई

1 Like · 124 Views
You may also like:
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
वो एक तुम
Saraswati Bajpai
जिंदगी ये नहीं जिंदगी से वो थी
Abhishek Upadhyay
✍️जिंदगी का फ़लसफ़ा✍️
"अशांत" शेखर
“NEW ABORTION LAW IN AMERICA SNATCHES THE RIGHT OF WOMEN”
DrLakshman Jha Parimal
गर्मी
Ram Krishan Rastogi
तुम्हारे जन्मदिन पर
अंजनीत निज्जर
प्रकृति का उपहार
Anamika Singh
पिता की अभिलाषा
मनोज कर्ण
Baby cries.
Taj Mohammad
ग़ज़ल
Nityanand Vajpayee
हिंसा की आग 🔥
मनोज कर्ण
चुप ही रहेंगे...?
मनोज कर्ण
साथ तुम्हारा
Rashmi Sanjay
मुँह इंदियारे जागे दद्दा / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
नूतन सद्आचार मिल गया
Pt. Brajesh Kumar Nayak
*सारथी बनकर केशव आओ (भक्ति-गीत)*
Ravi Prakash
हाइकु_रिश्ते
Manu Vashistha
खेसारी लाल बानी
Ranjeet Kumar
"मैंने दिल तुझको दिया"
Ajit Kumar "Karn"
जीवन मे कभी हार न मानों
Anamika Singh
हे परम पिता परमेश्वर, जग को बनाने वाले
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
जीने की वजह तो दे
Saraswati Bajpai
मोहब्बत में।
Taj Mohammad
आनंद अपरम्पार मिला
श्री रमण
गजलकार रघुनंदन किशोर "शौक" साहब का स्मरण
Ravi Prakash
You are my life.
Taj Mohammad
तुम धूप छांव मेरे हिस्से की
Saraswati Bajpai
बदल कर टोपियां अपनी, कहीं भी पहुंच जाते हैं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
رہنما مل گیا
अरशद रसूल /Arshad Rasool
Loading...