Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
May 23, 2022 · 1 min read

“मुश्किल वक़्त और दोस्त”

क्या गम है जो तुझे खा रहा है,
क्यों तेरी आँखे आज नम है,
जो है सैलाब तेरे दिल में आ कह दे फ़िर मुझसे,
सिर्फ़ तेरा यार नहीं तेरा भाई हूँ मैं,
सुख और दुख दोनों में तेरे साथ हूँ मैं,
ये एक काली रात है गुज़ार जायेगी, हिम्मत रख मेरे भाई खुशियां वापस आएंगी,
यूँ तो लड़ाई तू खुद अंदर ही अंदर लड़ रहा है पर घबराता क्यों है जब तेरा भाई तेरे साथ खड़ा है,
जो गया उसे अब जाने दे, क्यों अब आधा सा रिश्ता लिए घूम रहा है,
वो दो पल का साथी था वो चला गया, अब क्यों उसके पीछे जाना है,
ज़िन्दगी और अपनों के ख़ातिर तुझको वापस लौट कर आना है,
चल बैठ मेरे साथ हाथों में ले कर जाम,
याद करेंगें वो मस्ती भरे दिन और वो समंर की शाम,
अब मुस्कुरा खुल के और जी ले ये ज़िन्दगी आज़ादी से मेरी जान।

39 Views
You may also like:
तरुण वह जो भाल पर लिख दे विजय।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
हमारी सभ्यता
Anamika Singh
" जीवित जानवर "
Dr Meenu Poonia
कुंडलिया छंद
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
चंदा मामा बाल कविता
Ram Krishan Rastogi
मयंक के जन्मदिन पर बधाई
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*बुलाता रहा (आध्यात्मिक गीतिका)*
Ravi Prakash
✍️अमृताचे अरण्य....!✍️
"अशांत" शेखर
मुँह इंदियारे जागे दद्दा / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
नरसिंह अवतार
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Your laugh,Your cry.
Taj Mohammad
ये जमीं आसमां।
Taj Mohammad
नाशवंत आणि अविनाशी
Shyam Sundar Subramanian
लाशें बिखरी पड़ी हैं।(यूक्रेन पर लिखी गई ग़ज़ल)
Taj Mohammad
अधुरा सपना
Anamika Singh
नव सूर्योदय
AMRESH KUMAR VERMA
मत बना किसी को अपनी कमजोरी
Krishan Singh
झूला सजा दो
Buddha Prakash
अफसोस-कर्मण्य
Shyam Pandey
जब बेटा पिता पे सवाल उठाता हैं
Nitu Sah
सत्य छिपता नहीं...
मनोज कर्ण
नए जूते
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
जिंदगी की रेस
DESH RAJ
सत्यमंथन
मनोज कर्ण
आज के नौजवान
DESH RAJ
रेशमी रुमाल पर विवाह गीत (सेहरा) छपा था*
Ravi Prakash
राम घोष गूंजें नभ में
शेख़ जाफ़र खान
**मानव ईश्वर की अनुपम कृति है....
Prabhavari Jha
भाईजान की बात
AJAY PRASAD
या इलाही।
Taj Mohammad
Loading...