Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
24 Jul 2016 · 1 min read

मुक्तक

गमों की आँच में हम गीत लिख नहीं पाए
मिले जो आपसे वो प्रीत लिख नहीं पाए
लिखा तो है मगर ये कौन सी लिखावट है
खुदा के नाम को मनमीत लिख नहीं पाए

Language: Hindi
Tag: मुक्तक
1 Like · 519 Views
You may also like:
* सृजक *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
भगवान जगन्नाथ की आरती (०१
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
I was ready to say goodbye.
Manisha Manjari
गज़ल
साहित्य लेखन- एहसास और जज़्बात
गुमनाम मुहब्बत का आशिक
श्री रमण 'श्रीपद्'
फौजी
Dr Meenu Poonia
मम्मी थी इसलिए मैं हूँ...!! मम्मी I Miss U😔
Ravi Malviya
रिश्तों की डोर
मनोज कर्ण
कुछ तुम बदलो, कुछ हम बदलें।
निकेश कुमार ठाकुर
مستان میاں
Shivkumar Bilagrami
“ पहिल सार्वजनिक भाषण ”
DrLakshman Jha Parimal
✍️पिता:एक किरण✍️
'अशांत' शेखर
ईद मनाते हैं।
Taj Mohammad
दिनेश कार्तिक
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
Writing Challenge- स्वास्थ्य (Health)
Sahityapedia
इम्तिहान की घड़ी
Aditya Raj
आदि शक्ति
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
फरियादी (छोटी कहानी)
Ravi Prakash
★ ACTION BOLLYWOOD MUSIC ★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
कोई एहसास है शायद
Dr fauzia Naseem shad
तू तो नहीं
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
मैं भगतसिंह बोल रहा हूं...
Shekhar Chandra Mitra
पिता
Arvind trivedi
दिवाली
Aditya Prakash
मेहनत
Sushil chauhan
वक्त
AMRESH KUMAR VERMA
"शुभ श्रीकृष्ण जन्माष्टमी" प्यारे कन्हैया बंशी बजइया
Mahesh Tiwari 'Ayen'
एक खास याद 'बापू' के नाम
Seema 'Tu hai na'
एक कमरे की जिन्दगी!!!
Dr. Nisha Mathur
मिल जाने की तमन्ना लिए हसरत हैं आरजू
Dr.sima
Loading...