Jan 23, 2022 · 1 min read

“मुक्तक” : ( यूॅं किसी की भावनाएं…. )

“मुक्तक” : ( यूॅं किसी की भावनाएं…. )
?️??️??️??️??️??️

आजकल कोई भी किसी को न पूछ रहे !
बस, सदैव अपनी ही हित उन्हें सूझ रहे !
यूॅं किसी की भावनाएं कुंठित क्यों ना हो…
जब अपने ही अपनों से इतने जूझ रहे !!

स्वरचित एवं मौलिक ।
अजित कुमार “कर्ण” ✍️✍️
किशनगंज ( बिहार )
दिनांक : 23/01/2022.
“””””””””””””””””””””””””””””
?????????

6 Likes · 223 Views
You may also like:
पिता खुशियों का द्वार है।
Taj Mohammad
माँ क्या लिखूँ।
Anamika Singh
तन-मन की गिरह
Saraswati Bajpai
दया करो भगवान
Buddha Prakash
बे-पर्दे का हुस्न।
Taj Mohammad
सोने की दस अँगूठियाँ….
Piyush Goel
सतुआन
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
आज तिलिस्म टूट गया....
Saraswati Bajpai
माफी मैं नहीं मांगता
gurudeenverma198
जादूगर......
Vaishnavi Gupta
बिक रहा सब कुछ
Dr. Rajeev Jain
नीड़ फिर सजाना है
Saraswati Bajpai
रामे क बरखा ह रामे क छाता
Dhirendra Panchal
वफा की मोहब्बत।
Taj Mohammad
¡~¡ कोयल, बुलबुल और पपीहा ¡~¡
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
कर्ज
Vikas Sharma'Shivaaya'
शहीद रामचन्द्र विद्यार्थी
Jatashankar Prajapati
एक तोला स्त्री
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
डर कर लक्ष्य कोई पाता नहीं है ।
Buddha Prakash
इश्क नज़रों के सामने जवां होता है।
Taj Mohammad
"हमारी मातृभाषा हिन्दी"
Prabhudayal Raniwal
सौ प्रतिशत
Dr Archana Gupta
दिल तड़फ रहा हैं तुमसे बात करने को
Krishan Singh
श्रृंगार
Alok Saxena
जीने की वजह तो दे
Saraswati Bajpai
जंगल में कवि सम्मेलन
मनोज कर्ण
हम इतने भी बुरे नही,जितना लोगो ने बताया है
Ram Krishan Rastogi
💐💐प्रेम की राह पर-11💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
यही है भीम की महिमा
Jatashankar Prajapati
राम के जन्म का उत्सव
Manisha Manjari
Loading...