Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 24, 2022 · 1 min read

मिल जाने की तमन्ना लिए हसरत हैं आरजू

जन्मों का प्यार तेरा
ये इजहार मेरा
मिल जाने की तमन्ना
लिए हसरत हैं आरजू
गम को भुलाने कि तू हैं जुस्तजू
सिखाते हैं अपने को वो हुनर
भूल ना जाएं फिर वो डगर।
प्यार भरी नजर कहाँ हैं रे
अब वो योगी कहाँ है रे
मिल जाने की तमन्ना
लिए हसरत है आरजू
गम कोभुलाने कि तू हैं जुस्तजू
तेरा प्यार वही
कर्तव्य भार वहीं
जिसे चाहे हर -दिल बार- बार
फिर भी लगता रहे
कम हैं प्यार
गमों से भी प्यार हों
अपनों में बहार हो_ डॉ. सीमा कुमारी ,बिहार,भागलपुर दिनांक24-6-022की मौलिक एवं स्वरचित रचना जिसे आज प्रकाशित कर रही हूं।

2 Likes · 1 Comment · 86 Views
You may also like:
मैं डरती हूं।
Dr.sima
जो आया है इस जग में वह जाएगा।
Anamika Singh
“माँ भारती” के सच्चे सपूत
DESH RAJ
जग
AMRESH KUMAR VERMA
✍️ये जिंदगी कैसे नजर आती है✍️
'अशांत' शेखर
आता है याद सबको ही बरसात में छाता।
सत्य कुमार प्रेमी
मत करना
dks.lhp
संविधान की गरिमा
Buddha Prakash
वक़्त किसे कहते हैं
Dr fauzia Naseem shad
शादी से पहले और शादी के बाद
gurudeenverma198
#अपने तो अपने होते हैं
Seema 'Tu haina'
अगर प्यार करते हो मुझको
Ram Krishan Rastogi
कोशिश
Shyam Sundar Subramanian
मौसम
AMRESH KUMAR VERMA
The Send-Off Moments
Manisha Manjari
जब तुमने सहर्ष स्वीकारा है!
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
✍️वो "डर" है।✍️
'अशांत' शेखर
उसे चाहना
Nitu Sah
एक से नहीं होते
shabina. Naaz
हिन्दू साम्राज्य दिवस
jaswant Lakhara
कुछ काम करो
Anamika Singh
टूट कर की पढ़ाई...
आकाश महेशपुरी
जीवन में
Dr fauzia Naseem shad
मज़ाक बन के रह गए हैं।
Taj Mohammad
हम बस देखते रहे।
Taj Mohammad
बहुमत
मनोज कर्ण
कॉर्पोरेट जगत और पॉलिटिक्स
AJAY AMITABH SUMAN
देह मिलन
Kavita Chouhan
कैसा मोजिजा है।
Taj Mohammad
💐अशान्ति: अवश्यमेव नष्ट: भविष्यति,कदा??💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Loading...