Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
16 Apr 2020 · 1 min read

मिटाने पर तुले हैं

जिन्हें हम सब बचाने पर तुले हैं,
वो हम सबको मिटाने पर तुले हैं।

हम इनका ग़म बँटाने पर तुले हैं,
ये हमको आज़माने पर तुले हैं।

भला चैनो सुकूँ होगा तो कैसे,
कई दंगा कराने पर तुले हैं।

हिफ़ाज़त जिनके सर पर घर की होती,
वही घर को जलाने पर तुले हैं।

उठाए मौत के मुँह से जिन्हें हम,
हमे जग से उठाने पर तुले हैं।

जरूरी है गिरफ्तारी हो उनकी,
जो गद्दारी निभाने पर तुले हैं।

कभी ‘साहिब’ थे जो इंसानियत के,
वही इसको मिटाने पर तुले हैं।
—-मिलन साहिब।

1 Like · 156 Views
You may also like:
नमन करूँ कर जोर
नमन करूँ कर जोर
Dr. Sunita Singh
आंखों पर शायरी
आंखों पर शायरी
Dr fauzia Naseem shad
"अटपटा प्रावधान"
पंकज कुमार कर्ण
जनगणना मे मैथिली / Maithili in Population Census / जय मैथिली
जनगणना मे मैथिली / Maithili in Population Census / जय...
Binit Thakur (विनीत ठाकुर)
एक सवाल
एक सवाल
Taran Singh Verma
Gazal
Gazal
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
ਸੀਨੇ ਨਾਲ ਲਾਇਆ ਨਹੀਂ ਕਦੇ
ਸੀਨੇ ਨਾਲ ਲਾਇਆ ਨਹੀਂ ਕਦੇ
Surinder blackpen
■ नया शोध...
■ नया शोध...
*Author प्रणय प्रभात*
दीपोत्सव की शुभकामनाएं
दीपोत्सव की शुभकामनाएं
Saraswati Bajpai
सवैया /
सवैया /
ईश्वर दयाल गोस्वामी
"देख मेरा हरियाणा"
Dr Meenu Poonia
पेपर वाला
पेपर वाला
मनोज कर्ण
I got forever addicted.
I got forever addicted.
Manisha Manjari
"कवि"
Dr. Kishan tandon kranti
यह तस्वीर कुछ बोलता है
यह तस्वीर कुछ बोलता है
राकेश कुमार राठौर
हुऐ बर्बाद हम तो आज कल आबाद तो होंगे
हुऐ बर्बाद हम तो आज कल आबाद तो होंगे
Anand Sharma
मां शेरावाली
मां शेरावाली
Seema 'Tu hai na'
मुख्तालिफ बातें।
मुख्तालिफ बातें।
Taj Mohammad
"वो अक्स "
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
*दहल जाती धरा है जब, प्रबल भूकंप आते हैं (मुक्तक)*
*दहल जाती धरा है जब, प्रबल भूकंप आते हैं (मुक्तक)*
Ravi Prakash
=*तुम अन्न-दाता हो*=
=*तुम अन्न-दाता हो*=
Prabhudayal Raniwal
Book of the day: अर्चना की कुण्डलियाँ (भाग-1)
Book of the day: अर्चना की कुण्डलियाँ (भाग-1)
Sahityapedia
“ हमारा फेसबूक और हमरा टाइमलाइन ”
“ हमारा फेसबूक और हमरा टाइमलाइन ”
DrLakshman Jha Parimal
होली के त्यौहार पर तीन कुण्डलिया
होली के त्यौहार पर तीन कुण्डलिया
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
#नाव
#नाव
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
✍️इतिहास के पन्नो पर...
✍️इतिहास के पन्नो पर...
'अशांत' शेखर
ओ मेरी जान
ओ मेरी जान
gurudeenverma198
ठंडी क्या आफत है भाई
ठंडी क्या आफत है भाई
AJAY AMITABH SUMAN
दिहाड़ी मजदूर
दिहाड़ी मजदूर
Satish Srijan
ऐतिहासिक भूल
ऐतिहासिक भूल
Shekhar Chandra Mitra
Loading...