Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
May 17, 2022 · 1 min read

माफी मैं नहीं मांगता

शीर्षक – माफी मैं नहीं मांगता
——————————————————
नहीं करता अफसोस मैं,
क्योंकि मुझको विश्वास है,
मुजरिम सिर्फ मैं ही नहीं हूँ,
शर्म उनमें भी तो हो कुछ,
माफी मैं नहीं मांगता।

गुनाह सिर्फ मैंने ही नहीं छुपाया,
सच्चाई उन्होंने भी तो दबाई है,
पाने को प्रशंसा सभी दिलों से,
और जीतने को बाजी अपनी,
मैंने भी दबा दिये अपने पाप,
माफी मैं नहीं मांगता।

हाँ, उनकी पहुंच है वजीर तक,
और मैं हूँ एक अनजान चेहरा,
जैसे कि वो सोते हैं फूलों पर,
ऐसे ही मैंने भी खरीद लिया,
एक बाग अपने आराम के लिए,
नहीं चुकाकर ऋण बैंक का,
इसमें अब मेरी क्या खता है,
माफी मैं नहीं मांगता।

उनको मालूम है हकीकत मेरी,
याद है उनको मेरे अहसान भी,
कैसे जी रहा हूँ मैं वतन में,
लेकिन नहीं बेचा है मैंने,
सच में अपना यह वतन,
जैसे कि उन्होंने बेचा है,
अपना देश और जमीर,
ऐसे में गुनाहगार मैं नहीं,
माफी मैं नहीं मांगता।

शिक्षक एवं साहित्यकार-
गुरुदीन वर्मा उर्फ जी.आज़ाद
तहसील एवं जिला- बारां(राजस्थान)
मोबाईल नम्बर- 9571070847

1 Comment · 74 Views
You may also like:
जाने वाले बस कदमों के निशाँ छोड़ जाते हैं
VINOD KUMAR CHAUHAN
ग़ज़ल
Jitendra Kumar Noor
ज़िंदगी।
Taj Mohammad
💐उत्कर्ष💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
“ शिष्टता के धेने रहू ”
DrLakshman Jha Parimal
हालात
Surabhi bharati
दरारों से।
Taj Mohammad
मर्द को भी दर्द होता है
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
हम इतने भी बुरे नही,जितना लोगो ने बताया है
Ram Krishan Rastogi
✍️शब्दांच्या संवेदना...✍️
"अशांत" शेखर
पितृ महिमा
मनोज कर्ण
पुत्रवधु
Vikas Sharma'Shivaaya'
हवा का हुक़्म / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
【28】 *!* अखरेगी गैर - जिम्मेदारी *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
पिता
Saraswati Bajpai
💐प्रेम की राह पर-57💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
The Send-Off Moments
Manisha Manjari
यह कौन सा विधान है
Vishnu Prasad 'panchotiya'
योग क्या है और इसकी महत्ता
Ram Krishan Rastogi
#पूज्य पिता जी
आर.एस. 'प्रीतम'
आप कौन है
Sandeep Albela
आज असंवेदनाओं का संसार देखा।
Manisha Manjari
An abeyance
Aditya Prakash
✍️कबीरा बोल...✍️
"अशांत" शेखर
He is " Lord " of every things
Ram Ishwar Bharati
" शिवोहम रिट्रीट "
Dr Meenu Poonia
*मेरे देश का सैनिक*
Prabhudayal Raniwal
💐प्रेम की राह पर-28💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
थक चुकी हूं मैं
Shriyansh Gupta
राहतें ना थी।
Taj Mohammad
Loading...