Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Oct 2021 · 1 min read

🙏माता ब्रह्मचारिणी🙏

🌷माता ब्रह्मचारिणी🌷
********🙏********

जय जय जगजननी , जय जगधारिणी;
तू मां दुर्गा की द्वि स्वरूपा ब्रह्मचारिणी।
तुम तपस्विनी, नहीं तेरी कोई सवारी है;
तुम तो माता, सारे जग को ही प्यारी है।
तप का , सदा आचरण करने वाली मां;
तुम ही तो जगपालिनी, ब्रह्मचारिणी है।
तेरे श्वेत वस्त्र, कनक मुकुट , सुंदर नैना;
है हिमालय पुत्री तू और माता तेरी मैना।
करे एक हाथ तू , जप की माला धारण;
तुम तो एक हाथ में, कमंडल धारिणी है।
भक्तों को देती तुम ही , सुंदर सा ‘काया’;
अपने तप से ही तुमने , ‘शिव’ को पाया।
‘मां’ तेरे जप से , कुण्डलिनी शक्ति जागे;
जीवन सफल होता, सब बाधा दूर भागे।
निज भक्तों को, अनंत फल दिलाती ‘मां’;
कर्तव्य पथ से तू, कभी नहीं डिगाती मां।
तेरा स्वरूप तो , भव्य और ज्योर्तिमय है;
‘मां’, तेरी भक्ति और तेरी उपासना से तो;
तप, त्याग , वैराग्य और ‘सदाचार’ तय है।
तुम ही शक्ति हो , हर दीन और दानी की;
सब मिलकर बोलो, ‘जय माता रानी की’।
**************🙏***************

स्वरचित सह मौलिक;
……✍️पंकज ‘कर्ण’
…………कटिहार।।
तिथि:०८/१०/२०२१

Language: Hindi
5 Likes · 2 Comments · 753 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
🥰 होली पर कुछ लेख 🥰
🥰 होली पर कुछ लेख 🥰
Swati
*भगवान के नाम पर*
*भगवान के नाम पर*
Dushyant Kumar
दुनिया का क्या दस्तूर बनाया, मरे तो हि अच्छा बतलाया
दुनिया का क्या दस्तूर बनाया, मरे तो हि अच्छा बतलाया
Anil chobisa
क्या कहते स्वर व्यंजन सारे
क्या कहते स्वर व्यंजन सारे
Satish Srijan
हकीकत
हकीकत
Dr. Seema Varma
प्रेम पर्याप्त है प्यार अधूरा
प्रेम पर्याप्त है प्यार अधूरा
Amit Pandey
मुक्तक
मुक्तक
Rashmi Sanjay
नर्क स्वर्ग
नर्क स्वर्ग
Bodhisatva kastooriya
मोर छत्तीसगढ़ महतारी हे
मोर छत्तीसगढ़ महतारी हे
Vijay kannauje
पग बढ़ाते चलो
पग बढ़ाते चलो
surenderpal vaidya
💐प्रेम कौतुक-367💐
💐प्रेम कौतुक-367💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
क़ानून का जनाज़ा तो बेटा
क़ानून का जनाज़ा तो बेटा
*Author प्रणय प्रभात*
*पत्रिका का नाम : इंडियन थियोसॉफिस्ट*
*पत्रिका का नाम : इंडियन थियोसॉफिस्ट*
Ravi Prakash
#justareminderekabodhbalak
#justareminderekabodhbalak
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Raat gai..
Raat gai..
Vandana maurya
2298.पूर्णिका
2298.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
नौजवान सुभाष
नौजवान सुभाष
Aman Kumar Holy
भारत का भविष्य
भारत का भविष्य
Shekhar Chandra Mitra
कवि
कवि
Pt. Brajesh Kumar Nayak
हमने तो सोचा था कि
हमने तो सोचा था कि
gurudeenverma198
हर पति परमेश्वर नही होता
हर पति परमेश्वर नही होता
Kavita Chouhan
दूर रहकर तो मैं भी किसी का हो जाऊं
दूर रहकर तो मैं भी किसी का हो जाऊं
डॉ. दीपक मेवाती
अजब-गजब नट भील से, इस जीवन के रूप
अजब-गजब नट भील से, इस जीवन के रूप
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
#गणतंत्र दिवस#
#गणतंत्र दिवस#
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
अपनों की जीत
अपनों की जीत
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
शायरी संग्रह
शायरी संग्रह
श्याम सिंह बिष्ट
नियति
नियति
Shyam Sundar Subramanian
हिन्द की भाषा
हिन्द की भाषा
Sandeep Pande
अपने दिल से
अपने दिल से
Dr fauzia Naseem shad
ज़रूरी तो नहीं
ज़रूरी तो नहीं
Surinder blackpen
Loading...