Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#21 Trending Author

मां की पुण्यतिथि

प्रेम भरी मुस्काती सूरत, प्रेम भरी वे यादें
अंतर्मन में बसी हुईं, मां तेरी सौगातें
याद तो आती है मां तेरी, यादों में जी लेते हैं
उन भोली भाली बातों का, हम अमृत पी लेते हैं
कितना सहज सरल जीवन, हम सोचसोच रह जाते हैं
प्रेम तपस्या करुणा के पल, याद हृदय में आते हैं
साथ बिताए एक एक पल, मुस्कान आज दे जाते हैं
आंखों में दो अश्रु बिंदु, अनायास आ जाते हैं
माता जी के श्री चरणों में कोटि-कोटि नमन।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी

3 Likes · 5 Comments · 150 Views
You may also like:
💐योगं विना मुक्ति: नः💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
पिता खुशियों का द्वार है।
Taj Mohammad
भगवान जगन्नाथ रथ यात्रा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
करो नहीं व्यर्थ तुम,यह पानी
gurudeenverma198
इरादा
Shivam Sharma
धर्म में पंडे, राजनीति में गुंडे जनता को भरमावें
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मित्र दिवस पर आपको, प्यार भरा प्रणाम
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
कितनी इस दर्द ने
Dr fauzia Naseem shad
तुम चली गई
Dr.Priya Soni Khare
*मंदिर पंडित दत्त राम (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
सो गया है आदमी
कुमार अविनाश केसर
(स्वतंत्रता की रक्षा)
Prabhudayal Raniwal
जन्मदिन कन्हैया का
Jayanti Prasad Sharma
'शशिधर'(डमरू घनाक्षरी)
Godambari Negi
✍️ओर भी कुछ है जिंदगी✍️
'अशांत' शेखर
नज़्म – "तेरी आँखें"
nadeemkhan24762
मंज़िल
Ray's Gupta
✍️पाँव बढाकर चलना✍️
'अशांत' शेखर
एक कसम
shabina. Naaz
✍️किसान की आत्मकथा✍️
'अशांत' शेखर
चेहरा
शिव प्रताप लोधी
ख़ामोश मुझे मेरा
Dr fauzia Naseem shad
✍️सबक✍️
'अशांत' शेखर
नहीं चाहता
सिद्धार्थ गोरखपुरी
दामन भी अपना
Dr fauzia Naseem shad
फल
Aditya Prakash
आखिरी कोशिश
AMRESH KUMAR VERMA
हम उन्हें कितना भी मनाले
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
रात तन्हा सी
Dr fauzia Naseem shad
इश्क की खुशबू में ।
Taj Mohammad
Loading...