Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#14 Trending Author
Apr 13, 2022 · 1 min read

मां का आंचल

हर संकट में ये मां का आंचल
हर दुविधा में ये मां का आंचल
सिर पर रहता है हरदम सबके
हर पीड़ा में ये मां का आंचल
आंधी आए ये मां का आंचल
तुफां में भी ये मां का आंचल
बारिश धूप और सोते जागते
हम पे होता ये मां का आंचल
बिजली चमके मां का आंचल
बादल गरजे तो मां का आंचल
जब भी है लगता डर सायों से
सभी ढूंढते ये मां का आंचल
हवा डुलाता मां का आंचल
प्यार दिखाता मां का आंचल
आंख भर आएं तो अश्रूं पूंछे
‘विनोद’अद्भुत ये मां का आंचल

4 Likes · 2 Comments · 138 Views
You may also like:
तन्हा ही खूबसूरत हूं मैं।
शक्ति राव मणि
अंकपत्र सा जीवन
सूर्यकांत द्विवेदी
गर्म साँसें,जल रहा मन / (गर्मी का नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
कातिल ना मिला।
Taj Mohammad
पिता
Santoshi devi
तुझसे रूठ कर
Sadanand Kumar
कुछ काम करो
Anamika Singh
करते है धन्यवाद.....दिलसे
Dr. Alpa H. Amin
अभिलाषा
Anamika Singh
कच्चे आम
Prabhat Ranjan
💐💐प्रेम की राह पर-12💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
जल है जीवन में आधार
Mahender Singh Hans
दोहा छंद- पिता
रेखा कापसे
तमाल छंद में सभी विधाएं सउदाहरण
Subhash Singhai
बनकर कोयल काग
Jatashankar Prajapati
அழியக்கூடிய மற்றும் அழியாத
Shyam Sundar Subramanian
विश्व हास्य दिवस
Dr Archana Gupta
✍️पिता:एक किरण✍️
"अशांत" शेखर
वैवाहिक वर्षगांठ मुक्तक
अभिनव मिश्र अदम्य
मैं आज की बेटी हूं।
Taj Mohammad
प्रेम की परिभाषा
Nitu Sah
हिंसा की आग 🔥
मनोज कर्ण
यूं रो कर ना विदा करो।
Taj Mohammad
पिता कुछ भी कर जाता है।
Taj Mohammad
प्रदीप : श्री दिवाकर राही का हिंदी साप्ताहिक
Ravi Prakash
तेरी आरज़ू, तेरी वफ़ा
VINOD KUMAR CHAUHAN
शहीद का पैगाम!
Anamika Singh
लहजा
सिद्धार्थ गोरखपुरी
✍️मुतअस्सिर✍️
"अशांत" शेखर
दुलहिन परिक्रमा
मनोज कर्ण
Loading...