माँ दुर्गा-वंदना

माँ दुर्गा-वंदना

तेरी चरणों में दुर्गेश्वरी हम आ गए
तेरी शरण में परमेश्वरी हम आ गए…

हमें ज्ञान दो, स्वाभिमान दो, वरदान दो
भाविनी, भवमोचनी, भवप्रीता गल-गान दो
मातेश्वरी, सुरेश्वरी, ऐन्द्री हम आ गए…

हमें वाणी ऐसी दो कि जग-कल्याण हो
हमें बुद्धि ऐसी दो कि सच का ज्ञान हो
वैष्णवी, सुरसुन्दरी, मातंगी हम आ गए…

शक्ति मिले, भक्ति मिले कल्याण-कारी
हे देवमाता, महातपा, महाबला, महोदरी
बुद्धिदा, चामुंडा, सर्वेश्वरी हम आ गए…

– आनंद बिहारी, चंडीगढ़

7 Comments · 805 Views
You may also like:
तुम जो मिल गई हो।
Taj Mohammad
आप कौन है
Sandeep Albela
श्री राम स्तुति
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
तुम धूप छांव मेरे हिस्से की
Saraswati Bajpai
लौट आई जिंदगी बेटी बनकर!
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
जीवन-दाता
Prabhudayal Raniwal
बहुआयामी वात्सल्य दोहे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
ग़ज़ल
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
नारियल
Buddha Prakash
"सुकून की तलाश"
Ajit Kumar "Karn"
*•* रचा है जो परमेश्वर तुझको *•*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
सतुआन
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
तेरा रूतबा है बड़ा।
Taj Mohammad
बताओ तो जाने
Ram Krishan Rastogi
ईश्वर के संकेत
Dr. Alpa H.
** दर्द की दास्तान **
Dr. Alpa H.
मां तो मां होती है ( मातृ दिवस पर विशेष)
ओनिका सेतिया 'अनु '
जंगल में कवि सम्मेलन
मनोज कर्ण
पापा
सेजल गोस्वामी
कायनात के जर्रे जर्रे में।
Taj Mohammad
तितली सी उड़ान है
VINOD KUMAR CHAUHAN
हमें अब राम के पदचिन्ह पर चलकर दिखाना है
Dr Archana Gupta
धुँध
Rekha Drolia
समय के पंखों में कितनी विचित्रता समायी है।
Manisha Manjari
तुम्हीं हो मां
Krishan Singh
दुआ
Alok Saxena
લંબાવને 'તું' તારો હાથ 'મારા' હાથમાં...
Dr. Alpa H.
पितु संग बचपन
मनोज कर्ण
आरज़ू है बस ख़ुदा
Dr. Pratibha Mahi
कर्म पथ
AMRESH KUMAR VERMA
Loading...