Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#4 Trending Author
May 21, 2022 · 1 min read

माँ क्या लिखूँ।

माँ तेरी ममता का,
मेरा कलम भी कायल हो गया ।
लिखने चला जो तेरी ममता को,
वह खुद ही घायल हो गया।

कलम बेचारा छोटा सा,
तेरी महिमा है अनंत ।
क्या लिखूँ , क्या न लिखूँ
यह सोच-सोच कर वह पागल हो गया!

माँ तेरे प्यार को लिखूँ ,
या लिखूँ तेरा मैं त्याग ।
तेरी करूणा को लिखूँ ,
या तेरी दया करू बयान।

लिखने चला जो तेरे गुणों को,
वह पीछे हट गया।
कितना भी समझाया मैंने,
पर वह नालायक हो गया।

वह हाथ जोड़कर मेरे सामने,
खड़ा हो गया।
बोला मैं न लिख पाऊँगा,
वह पीछे हट गया

~अनामिका

4 Likes · 5 Comments · 71 Views
You may also like:
सुमंगल कामना
Dr.sima
उलझनें_जिन्दगी की
मनोज कर्ण
खुदा ने जो दे दिया।
Taj Mohammad
अंजान बन जाते हैं।
Taj Mohammad
💐💐प्रेम की राह पर-12💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
जाने क्यों
सूर्यकांत द्विवेदी
جانے کہاں وہ دن گئے فصل بہار کے
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
मुकरियां __नींद
Manu Vashistha
कोई न अपना
AMRESH KUMAR VERMA
बद्दुआ।
Taj Mohammad
अब आगाज यहाँ
vishnushankartripathi7
तन्हाई
Alok Saxena
सेमर
विकास वशिष्ठ *विक्की
वृक्ष हस रहा है।
Vijaykumar Gundal
** The Highway road **
Buddha Prakash
शैशव की लयबद्ध तरंगे
Rashmi Sanjay
आज का विकास या भविष्य की चिंता
Vishnu Prasad 'panchotiya'
💐💐प्रेम की राह पर-14💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
पिता का प्रेम
Seema gupta ( bloger) Gupta
मायका
Anamika Singh
सुख दुख
Rakesh Pathak Kathara
पितृ स्वरूपा,हे विधाता..!
मनोज कर्ण
भगवान हमारे पापा हैं
Lucky Rajesh
वो कहते हैं ...
ओनिका सेतिया 'अनु '
भोपाल गैस काण्ड
Shriyansh Gupta
साँप की हँसी होती कैसी
AJAY AMITABH SUMAN
ये जिंदगी एक उलझी पहेली
VINOD KUMAR CHAUHAN
शेर
dks.lhp
पिता के होते कितने ही रूप।
Taj Mohammad
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग१]
Anamika Singh
Loading...