Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

महान सत्याग्रही

महान जैन गुरु और जैन धर्म के महान प्रवर्त्तक महावीर जैन की पावन जन्मोत्सव मनाया । प्रभु यीशु मसीह के बलिदान दिवस को गुड फ्राइडे के रूप में याद किया।

दोनों संत सत्य और अहिंसा के पुजारी थे, तो सत्याहिंसा सहित स्वच्छता जैसे प्रवर्त्तन के प्रथम प्रतिपादक भगवान महावीर थे । हालाँकि महावीर स्वामी का जन्म बिहार के ही वैशाली जिला में हुआ था, तथापि इस राज्य में जैन धर्म के अनुयायियों की संख्या काफी कम है। गुजरात में इस धर्म के काफी अनुयायी हैं । महात्मा गाँधी गुजरात से थे और उनके परिवार में सनातन हिन्दू धर्म पर जैनी प्रभाव था, गाँधी जी में जैन धर्म का विशेष प्रभाव पड़ा।

देश गाँधी जी के द्वारा बिहार के चंपारण में प्रथम सत्याग्रह किये जाने के सौवीं वर्षगाँठ मना चुका है, इस उपलक्ष्य में बिहार की धरती पर पधारे गाँधी-दर्शन-संगी द्वारा उनके सत्याग्रही होने, अहिंसाग्रही होने और स्वच्छाग्रही होने की पुरजोर वकालत करते हुए इस 21 वीं सदी में भी ऐसे दर्शन की प्रासंगिकता बता रहा है।

बिहार की सैद्धांतिक उर्वर भूमि के होकर भी हम संत महावीर जैन के विचारों को गाँधी जी के दर्शन के माध्यम से जान समझ रहे हैं और ऐसा भी क्यों न हो कि संभव हो, महात्मा गाँधी ‘महात्मा महावीर’ के अवतार रहे हों । अभी से हम कसम ले कि सत्य, अहिंसा और स्वच्छता के मार्ग पर चलते हुए हम यथाशीघ्र आग्रही बने।

3 Likes · 2 Comments · 169 Views
You may also like:
कोई तो दिन होगा।
Taj Mohammad
दोस्त हो जो मेरे पास आओ कभी।
सत्य कुमार प्रेमी
दिल से जियो।
Taj Mohammad
अल्फाज़ ए ताज भाग-5
Taj Mohammad
✍️ये मेरा भी वतन✍️
'अशांत' शेखर
छाँव पिता की
Shyam Tiwari
खुद को तुम पहचानों नारी ( भाग १)
Anamika Singh
“हिमांचल दर्शन “
DrLakshman Jha Parimal
✍️पैरो तले ज़मी✍️
'अशांत' शेखर
न्याय सम्राट अशोक का
AJAY AMITABH SUMAN
जिंदगी देखा तुझे है आते अरु जाते हुए।
सत्य कुमार प्रेमी
✍️ख़्वाबो की अमानत✍️
'अशांत' शेखर
साँझ ढल रही है
अमित नैथानी 'मिट्ठू' (अनभिज्ञ)
'समय का सदुपयोग'
Godambari Negi
मोहब्बत कुआं
साहित्य गौरव
सिद्धार्थ से वह 'बुद्ध' बने...
Buddha Prakash
✍️पाँव बढाकर चलना✍️
'अशांत' शेखर
मंजिल
Kanchan Khanna
✍️पर्दा-ताक हुवा नहीं✍️
'अशांत' शेखर
गाँव के रंग में
सिद्धार्थ गोरखपुरी
Green Trees
Buddha Prakash
आओ मिलके पेड़ लगाए !
Naveen Kumar
उसे कभी न ……
Rekha Drolia
रक्षाबंधन
Utsav Kumar Aarya
# निनाद .....
Chinta netam " मन "
प्रेम दो दिल की धड़कन है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
ज़िंदगी बे'जवाब रहने दो
Dr fauzia Naseem shad
कालजयी साहित्यकार जयशंकर प्रसाद जी (133 वां जन्मदिन)
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
यथा प्रदीप्तं ज्वलनं.…..
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
सुविचार
Godambari Negi
Loading...