Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

मस्तिष्क

मस्तिष्क इंसान का महत्वपुर्ण अंग है। वास्तव में सभी शरीर के हिस्से इस मस्तिष्क के लिए ही कार्य करते है। मनुष्य का व्यक्तित्व कुछ और नही तो उसके मस्तिष्क से निकले वाली सोच ही है। सोच उसे साधारण या असाधरण बनाती है।
यही वह जगह है जहां आत्मा बसती है।

-आनंदश्री

2 Likes · 156 Views
You may also like:
यारों की आवारगी
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
धार छंद "आज की दशा"
बासुदेव अग्रवाल 'नमन'
✍️क़हर✍️
"अशांत" शेखर
✍️ये केवल संकलन है,पाठकों के लिये प्रस्तुत
"अशांत" शेखर
Only Love Remains
Manisha Manjari
तकदीर
Anamika Singh
शुभ गगन-सम शांतिरूपी अंश हिंदुस्तान का
Pt. Brajesh Kumar Nayak
दीया तले अंधेरा
Vikas Sharma'Shivaaya'
गाँव की साँझ / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
वक्त की उलझनें
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
कर्म-पथ से ना डिगे वह आर्य है।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
कहानी *"ममता"* पार्ट-3 लेखक: राधाकिसन मूंधड़ा, सूरत।
radhakishan Mundhra
सबकुछ बदल गया है।
Taj Mohammad
*स्वर्गीय श्री जय किशन चौरसिया : न थके न हारे*
Ravi Prakash
पैसों के रिश्ते
Vikas Sharma'Shivaaya'
✍️सिर्फ…✍️
"अशांत" शेखर
पैसा
Kanchan Khanna
कुछ तुम बदलो, कुछ हम बदलें।
निकेश कुमार ठाकुर
दृश्य प्रकृति के
श्री रमण 'श्रीपद्'
✍️हम वतनपरस्त जागते रहे..✍️
"अशांत" शेखर
पत्र की स्मृति में
Rashmi Sanjay
नज़्म – "तेरी आँखें"
nadeemkhan24762
आ जाओ राम।
Anamika Singh
वह खूब रोए।
Taj Mohammad
ख्वाब
Harshvardhan "आवारा"
तिरंगा मन में कैसे फहराओगे ?
ओनिका सेतिया 'अनु '
✍️दिल शायर होता है...✍️
"अशांत" शेखर
पुस्तक समीक्षा -'जन्मदिन'
Rashmi Sanjay
✍️सियासत✍️
"अशांत" शेखर
# उम्मीद की किरण #
Dr.Alpa Amin
Loading...