Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 Feb 2023 · 1 min read

पेशावर की मस्जिद में

मस्जिद में आबेदीन तमाम,
फिदायीन हमले के वक्त।
सुर्ख हुई ज़मीं सारी,
कुछ घायल कुछ मर गये।

पेशावर की मस्जिद में तो,
कोई भी न गैर था।
कौम इक थी दीन इक था,
सारे मोमिन थे फ़क़त।

किसने की गुस्ताखी ऐसी,
पता करो कौन है।
मोमिन ने मोमिन को मारा,
या कोई काफिर था वो।

देख कर मंजर वहां का,
क़ल्ब है कुछ ग़मज़दा।
मस्जिद के सारे नमाजी,
बन्दे थे रहमान के।

दुश्मनों का गम हो चाहे,
हो जाते मलूल हम।
शिर्क में तालीम ऐसी,
सब में दिखता नूर इक।

मौला ऐसी कर इनायत,
फिर न हो ये वाकया।
वरना तेरी दर पे आकर,
भी डरेंगे लोग अब।
सतीश सृजन

Language: Hindi
1 Like · 44 Views
Join our official announcements group on Whatsapp & get all the major updates from Sahityapedia directly on Whatsapp.
You may also like:
विश्व तुम्हारे हाथों में,
विश्व तुम्हारे हाथों में,
कुंवर बहादुर सिंह
बन नेक बन्दे रब के
बन नेक बन्दे रब के
Satish Srijan
तेरा हम पर कहां
तेरा हम पर कहां
Dr fauzia Naseem shad
✴️✴️प्रेम की राह पर-70✴️✴️
✴️✴️प्रेम की राह पर-70✴️✴️
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
"धन वालों मान यहाँ"
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
अज़ब सा हाल तेरे मजनू ने बना रक्खा है By Vinit Singh Shayar
अज़ब सा हाल तेरे मजनू ने बना रक्खा है By Vinit Singh Shayar
Vinit kumar
11कथा राम भगवान की, सुनो लगाकर ध्यान
11कथा राम भगवान की, सुनो लगाकर ध्यान
Dr Archana Gupta
★फसल किसान की जान हिंदुस्तान की★
★फसल किसान की जान हिंदुस्तान की★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
सनम  ऐसे ना मुझको  बुलाया करो।
सनम ऐसे ना मुझको बुलाया करो।
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
इश्क़ का कुछ अलग ही फितूर था हम पर,
इश्क़ का कुछ अलग ही फितूर था हम पर,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
#drarunkumarshastriblogger
#drarunkumarshastriblogger
DR ARUN KUMAR SHASTRI
नफ़रत के सौदागर
नफ़रत के सौदागर
Shekhar Chandra Mitra
मोह माया ये ज़िंदगी सब फ़ँस गए इसके जाल में !
मोह माया ये ज़िंदगी सब फ़ँस गए इसके जाल में !
Neelam Chaudhary
2288.पूर्णिका
2288.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
सफलता वही है जो निरंतर एवं गुणवत्तापूर्ण हो।
सफलता वही है जो निरंतर एवं गुणवत्तापूर्ण हो।
dks.lhp
दुखद अंत 🐘
दुखद अंत 🐘
Rajni kapoor
रक्त को उबाल दो
रक्त को उबाल दो
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
किरदार
किरदार
Surinder blackpen
"नजरिया"
Dr. Kishan tandon kranti
नल बहे या नैना, व्यर्थ न बहने देना...
नल बहे या नैना, व्यर्थ न बहने देना...
इंदु वर्मा
सागर की हिलोरे
सागर की हिलोरे
Satpallm1978 Chauhan
■ अच्छे शिक्षक, अच्छे बच्चे
■ अच्छे शिक्षक, अच्छे बच्चे
*Author प्रणय प्रभात*
वह ठहर जाएगा ❤️
वह ठहर जाएगा ❤️
Rohit yadav
ये कुछ सवाल है
ये कुछ सवाल है
gurudeenverma198
हम
हम
Shriyansh Gupta
वो राह देखती होगी
वो राह देखती होगी
Kavita Chouhan
देते ऑक्सीजन हमें, बरगद पीपल नीम (कुंडलिया)
देते ऑक्सीजन हमें, बरगद पीपल नीम (कुंडलिया)
Ravi Prakash
नाम के अनुरूप यहाँ, करे न कोई काम।
नाम के अनुरूप यहाँ, करे न कोई काम।
डॉ.सीमा अग्रवाल
"महंगा तजुर्बा सस्ता ना मिलै"
MSW Sunil SainiCENA
বন কেটে ফেলা হচ্ছে
বন কেটে ফেলা হচ্ছে
Sakhawat Jisan
Loading...