Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Apr 19, 2022 · 1 min read

ममत्व की माँ

ममत्व की माँ

ममत्व की माँ ही हैं ,
जो तब से स्नेह करती हैं
जब मैं इस दुनिया में भी नहीं आया था ।

ममत्व की माँ ही हैं ,
जो निःस्वार्थ प्रेम ,करुणा , प्रार्थना
अंतकरण में सदैव रखकर समाया था ।।

ममत्व की माँ ही हैं ,
हरपल उपकार न भुलना हैं ।

जिस घर में माँ खुश हैं ,
वहाँ खुशियों का खजाना हैं ।।

ममत्व की माँ ही हैं ,
माँ के स्मरण मात्र से ,
संसार रुपी भंवर की रक्षा करती हैं ।

संपूर्ण ब्रम्हांड ,
सृष्टि उत्पत्ति समायी करती है ।।

ममत्व की माँ ही हैं ,
कोई भी अपने जीवन में ,
मातृ ऋण से मुक्त नहीं हो सकता हैं ।

सर्वप्रथम गुरू , मार्गदर्शन , पथदर्शक हैं,
जीवन में हर लड़ाई, साहस , शक्ती की प्रदाता हैं ।

– राजू गजभिये
बदनावर जिला धार
( मध्यप्रदेश )

2 Likes · 1 Comment · 70 Views
You may also like:
लिहाज़
पंकज कुमार "कर्ण"
वेदना के अमर कवि श्री बहोरन सिंह वर्मा प्रवासी*
Ravi Prakash
सौगंध
Shriyansh Gupta
पिता - नीम की छाँव सा - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
बारिश हमसे रूढ़ गई
Dr. Alpa H. Amin
पापा क्यूँ कर दिया पराया??
Sweety Singhal
युद्ध सिर्फ प्रश्न खड़ा करता है [भाग१]
Anamika Singh
कहानी को नया मोड़
अरशद रसूल /Arshad Rasool
✍️✍️बूद✍️✍️
"अशांत" शेखर
जंत्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
*इस बार पार कर दो (भक्ति गीत)*
Ravi Prakash
संकोच - कहानी
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
सच्चाई का दर्पण.....
Dr. Alpa H. Amin
सबको हार्दिक शुभकामनाएं !
Prabhudayal Raniwal
स्मृति चिन्ह
Shyam Sundar Subramanian
उस दिन
Alok Saxena
पिता बना हूं।
Taj Mohammad
पुस्तक की पीड़ा
सूर्यकांत द्विवेदी
✍️जिंदगी क्या है...✍️
"अशांत" शेखर
✍️मेरे हाथों में सिर्फ लकीऱे है✍️
"अशांत" शेखर
✍️कालचक्र✍️
"अशांत" शेखर
=*तुम अन्न-दाता हो*=
Prabhudayal Raniwal
वक्त सा गुजर गया है।
Taj Mohammad
हम हर गम छुपा लेते हैं।
Taj Mohammad
मैं तो सड़क हूँ,...
मनोज कर्ण
बेजुबां जीव
Jyoti Khari
काफ़िर जमाना
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
काश अपना भी कोई चाहने वाला होता।
Taj Mohammad
राई का पहाड़
Sangeeta Darak maheshwari
🌺🌺प्रेम की राह पर-47🌺🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Loading...