Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 5, 2021 · 1 min read

मठरी( कुंडलिया)

*मठरी (कुंडलिया)*
?■■■■■■■■■■■■■■■
मठरी है सबसे भली ,आटे की नमकीन
घी में यह जाती तली ,करके छेद महीन
करके छेद महीन , घरों में सबके भाती
सँग में अगर अचार ,स्वाद दोगुना बढ़ाती
कहते रवि कविराय ,बाँधकर जाता गठरी
जब मानव परदेस ,काम तब आती मठरी
■■■■■■■■■■■■■??
रचयिता : रवि प्रकाश, बाजार सर्राफा
रामपुर (उत्तर प्रदेश)
मोबाइल 99976 15451

274 Views
You may also like:
“ खून का रिश्ता “
DrLakshman Jha Parimal
मंजिल की उड़ान
AMRESH KUMAR VERMA
गीत
Nityanand Vajpayee
रूह को कैसे सजाओगे।
Taj Mohammad
दादी की कहानी
दुष्यन्त 'बाबा'
अगर तुम खुश हो।
Taj Mohammad
दर्द की कश्ती
DESH RAJ
हम पे सितम था।
Taj Mohammad
ये नारी है नारी।
Taj Mohammad
ठंडे पड़ चुके ये रिश्ते।
Manisha Manjari
छोड़ दो बांटना
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
*मरने का हर मन में डर है (गीतिका)*
Ravi Prakash
दो पल मोहब्बत
श्री रमण 'श्रीपद्'
तुमको खुशी मिलती है।
Taj Mohammad
तुम्हारे हाथों में।
Taj Mohammad
मुझे छल रहे थे
Anamika Singh
सफल होना चाहते हो
Krishan Singh
पिता का पता
श्री रमण 'श्रीपद्'
मैं पुकारती रही
Anamika Singh
ज़ब्त क्यों मेरा आज़माते हो
Dr fauzia Naseem shad
रावण - विभीषण संवाद (मेरी कल्पना)
Anamika Singh
आंखों पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
थक चुकी हूं मैं
Shriyansh Gupta
पिता
Neha Sharma
फादर्स डे पर विशेष पिरामिड कविता
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
मौसम यह मोहब्बत का बड़ा खुशगवार है
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
✍️मैं आज़ाद हूँ (??)✍️
'अशांत' शेखर
दुआ पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
✍️✍️ए जिंदगी✍️✍️
'अशांत' शेखर
दर्शन शास्त्र के ज्ञाता, अतीत के महापुरुष
Mahender Singh Hans
Loading...