Sep 10, 2016 · 1 min read

मगर मेरे भाई तू कवि बन न जाना.

अजी चाहे जब गीत औरों के गाना
चहकना बहकना व सीटी बजाना
गुसलखाने में मस्त हो गुनगुनाना
मगर मेरे भाई तू कवि बन न जाना

कविता बहुत से सुनाते मिलेंगें
ग़ज़ल गीत रच-रच के गाते मिलेंगें
सभी जख्म अपने दिखाते मिलेगें
बहत्तर में जोड़ी बनाते मिलेगें
भला गर जो चाहो तो बचना-बचाना
मगर मेरे भाई तू कवि बन न जाना

अधिकतर मिले मुक्त कविता सुनाते
अटकते गटकते व छाती फुलाते
नई कविता पढ़कर गज़ब मुस्कुराते
स्वयं को ही छलकर निराला बताते
अगर लाज आये कभी मत लजाना
मगर मेरे भाई तू कवि बन न जाना

पुराने रिवाजों में अब क्या धरा है
रचा छंद जिसने वो पहले मरा है
नहीं शिल्प जाने तभी मन डरा है
सो छंदों से भागे गला बेसुरा है
भले चुटकुलों से ही खाना-कमाना
मगर मेरे भाई तू कवि बन न जाना

समर्पित हों जब छंद निर्मल रचेगें
तो लय नाद लालित्य झंकृत करेगें
बहे शब्द सरिता तो तालिब बनेगें
बहर में कहें मीर ग़ालिब बनेगें
डकैती ही बेहतर इन्हें मत चुराना
मगर मेरे भाई तू कवि बन न जाना

है मंचों की महिमा बहुत ही निराली
मजे में है चलती मजे की दलाली
मिला जब भी मौक़ा तो पगड़ी उछाली
भँड़ैती जमा दे मिले खूब ताली
तुम्हें मैं बुलाऊँ मुझे तुम बुलाना
मगर मेरे भाई तू कवि बन न जाना

–इंजी० अम्बरीष श्रीवास्तव ‘अम्बर’

179 Views
You may also like:
"सुकून की तलाश"
Ajit Kumar "Karn"
Where is Humanity
Dheerendra Panchal
ऐसी बानी बोलिये
अरशद रसूल /Arshad Rasool
The Sacrifice of Ravana
Abhineet Mittal
कभी कभी।
Taj Mohammad
परेशां हूं बहुत।
Taj Mohammad
मूक हुई स्वर कोकिला
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
अशोक विश्नोई एक विलक्षण साधक (पुस्तक समीक्षा)
Ravi Prakash
सबसे बड़ा सवाल मुँहवे ताकत रहे
आकाश महेशपुरी
प्रेम
श्रीहर्ष आचार्य
पिता एक विश्वास - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
आपकी तरहां मैं भी
gurudeenverma198
पिता, इन्टरनेट युग में
Shaily
समुंदर बेच देता है
आकाश महेशपुरी
💐प्रेम की राह पर-29💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
बुंदेली दोहे
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
हर अश्क कह रहा है।
Taj Mohammad
Angad tiwari
Angad Tiwari
एहसासों के समंदर में।
Taj Mohammad
*अमृत-सरोवर में नौका-विहार*
Ravi Prakash
जग का राजा सूर्य
Buddha Prakash
अब ज़िन्दगी ना हंसती है।
Taj Mohammad
पिता
Deepali Kalra
माँ तेरी जैसी कोई नही।
Anamika Singh
चुप ही रहेंगे...?
मनोज कर्ण
देखो हाथी राजा आए
VINOD KUMAR CHAUHAN
प्यार के फूल....
Dr. Alpa H.
नैतिकता और सेक्स संतुष्टि का रिलेशनशिप क्या है ?
Deepak Kohli
पिता का प्यार
pradeep nagarwal
हाइकु:(कोरोना)
Prabhudayal Raniwal
Loading...