Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 Oct 2022 · 1 min read

मंगलमय हो भाई दूज, बहिन बेटियां सुखी रहें

मंगलमय हो भाई दूज, बहिन बेटियां सुखी रहें
सुरक्षित हों उनकी राहें, दुनिया में आबाद रहें
नहीं हो अत्याचार धरा पर, अनाचार न हो जग में
पग पग पर उजियारा हो, खुशियां हों जीवन में
सुरेश कुमार चतुर्वेदी

Language: Hindi
Tag: कविता
3 Likes · 1 Comment · 82 Views
You may also like:
बहुत बुरा लगेगा दोस्त
gurudeenverma198
उम्र गुजर जाने के बाद
Dhirendra Panchal
बेरोज़गारों का कब आएगा वसंत
Anamika Singh
जो हुआ अच्छा, जो हो रहा है अच्छा, जो होगा...
Uday kumar
डर को बनाया है हथियार।
Taj Mohammad
✍️मुझे तेरी तलाश नहीं✍️
'अशांत' शेखर
वो आज मिला है खुलकर
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
कौन लोग थे
Kaur Surinder
सच मानो
सूर्यकांत द्विवेदी
कुमार विश्वास
Satish Srijan
चार पैसे भी नही..
Vijay kumar Pandey
पुन: विभूषित हो धरती माँ ।
Saraswati Bajpai
दर्द अपना है तो
Dr fauzia Naseem shad
आधुनिकता के इस दौर में संस्कृति से समझौता क्यों
पंकज कुमार शर्मा 'प्रखर'
'रूप बदलते रिश्ते'
Godambari Negi
मंजिल को अपना मान लिया !
Kuldeep mishra (KD)
✍️लक्ष्य ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
कुनमुनी नींदे!!
Dr. Nisha Mathur
मुक्तक
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
★दर्द भरा जीवन तेरा दर्दों से घबराना नहीं★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
*** पेड़ : अब किसे लिखूँ अपनी अरज....!! ***
VEDANTA PATEL
पूनम की रात में चांद व चांदनी
Ram Krishan Rastogi
*माँ यह ही अरदास (हिंदी गजल/दोहा गीतिका)*
Ravi Prakash
“BETRAYAL, CHEATING AND PERSONAL ATTACK ARE NOT THE MISTAKES TO...
DrLakshman Jha Parimal
HE destinated me to do nothing but to wait.
Manisha Manjari
छठ महापर्व
श्री रमण 'श्रीपद्'
Writing Challenge- दिशा (Direction)
Sahityapedia
गज़ब की शीत लहरी है सहन अब की नहीं जाती
Dr Archana Gupta
सफर
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
बौद्ध सम्राट रावण
Shekhar Chandra Mitra
Loading...