Sep 3, 2016 · 1 min read

भू -घटा संवाद

वारिश का मौसम और वरसात आत्मा की पुकार परमात्मा से
सुनिए धरा क्या कहती है घटा से एक आत्मीय संवाद

भू घटा संवाद

काली घटायें घिर घिर कर, प्यासे हृदय को दहकाती हैं
बन बदली छाये गगन पर, प्यासे की प्यास जगाती है

उम्मीद जगाकर वारिश की, बूंदों में आग लगाती हैं
झुक जाती भू से मिलन को, पल पल ये तरसाती हैं
प्यासे की——-

प्रीत बनी प्रतीक्षा भू की, नीलगगन को ध्याती है
देखके नभ् के इंद्रधनुष को, अपना श्रृंगार सजाती है
प्यासे हृदय——

आन मिलो पिय जिया बुलाये, मेरी हूंक ही पपीहा गाये
मोहे उड़ा दे अब चुनरिया, अँखियन आस जगाती है
प्यासे की——

चैन मिले ना रैन कटे, तुम बिन कैसे सेज सजे
युगों पुरानी प्रीत हमारी, मिलन की आस जगाती है
प्यासे हृदय——

घटा उवाच–

मदमाती,इतराती,इठलाती, बरस पड़ी मद को छलकाती
कहे धरा से फिर फैला बाहें, क्यों मुझको ऐसे बुलाती है
प्यासे की————-

झुलसाया मुझे तेरी प्यास ने, बरस पड़ी बनके तब रिमझिम
भूल गगन की ऊंचाई को, तेरे प्रीत के गीत को गाती है
प्यासे हृदय————-

बन फुहार तेरे प्रीतम की, तेरे उर की क्षुधा बुझाती है
अतृप्त तेरी अन्तस् की ज्वाला, फिर मेरे ही गीत को गाती है

मेरा दृष्टिकोण

प्यासे की प्यास बुझाती है, बूंदों से आँचल को सजाती है
हरियाली की ओढ़ ओढ़नी , गीत मल्हार तब गाती है
प्यासे की ——-
महक उठे तब वसुंधरा, झूलों पर मीत के राग सजे
इठलाई सरिता तरुनाई, मन मधुवन महकाती है
प्यासे हृदय—

1 Like · 1 Comment · 324 Views
You may also like:
आईना पर चन्द अश'आर
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
"निरक्षर-भारती"
Prabhudayal Raniwal
पिता एक विश्वास - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
सुख दुख
Rakesh Pathak Kathara
ईद में खिलखिलाहट
Dr. Kishan Karigar
गुरु तुम क्या हो यार !
The jaswant Lakhara
मेरे गाँव में होने लगा है शामिल थोड़ा शहर [प्रथम...
AJAY AMITABH SUMAN
अम्मा/मम्मा
Manu Vashistha
【11】 *!* टिक टिक टिक चले घड़ी *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
पिता भगवान का अवतार होता है।
Taj Mohammad
इन नजरों के वार से बचना है।
Taj Mohammad
मेरे पापा
ओनिका सेतिया 'अनु '
सच
Vikas Sharma'Shivaaya'
एक प्रेम पत्र
Rashmi Sanjay
रे बाबा कितना मुश्किल है गाड़ी चलाना
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
💐ये मेरी आशिकी💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
हे परम पिता परमेश्वर, जग को बनाने वाले
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
नियत मे पर्दा
Vikas Sharma'Shivaaya'
लाचार बूढ़ा बाप
The jaswant Lakhara
【10】 ** खिलौने बच्चों का संसार **
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
हाइकु:(लता की यादें!)
Prabhudayal Raniwal
💐प्रेम की राह पर-56💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
The Journey of this heartbeat.
Manisha Manjari
आज की नारी हूँ
Anamika Singh
ग़ज़ल
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
【28】 *!* अखरेगी गैर - जिम्मेदारी *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
बहाना
Vikas Sharma'Shivaaya'
Angad tiwari
Angad Tiwari
जो बीत गई।
Taj Mohammad
पुत्रवधु
Vikas Sharma'Shivaaya'
Loading...